Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

जल संरक्षण कार्याें में हो आमजन की भागीदारी-गोयल

-मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की कार्यशाला मंे जन प्रतिनिधियांे से सक्रिय भागीदारी का आहवान बाड़मेर, 12 नवंबर। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन ...

-मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की कार्यशाला मंे जन प्रतिनिधियांे से सक्रिय भागीदारी का आहवान

बाड़मेर, 12 नवंबर। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के द्वितीय चरण मंे आमजन की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। आमजन का अधिकाधिक सहयोग लेने के साथ गुणवत्तापूर्ण कार्य करवाकर उदाहरण पेश करें। इस बारे मंे अधिकाधिक प्रचार-प्रसार कराया जाए। बाड़मेर जिले के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने शनिवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे आयोजित मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान द्वितीय चरण की जन प्रतिनिधियांे की कार्यशाला के दौरान यह बात कही।

प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान से संबंधित डिटेल डीपीआर पर ग्राम सभा मंे विस्तारपूर्वक चर्चा करवाने के साथ निविदा प्रक्रिया मंे पारदर्शिता बरती जाए। उन्हांेने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत प्रथम चरण मंे बेहतरीन कार्य हुआ हैं। द्वितीय चरण 10 दिसंबर से प्रारंभ होगा। इस बार 37 ग्राम पंचायतांे मंे 104 करोड़ की लागत के 5700 कार्य करवाए जाएंगे। उन्हांेने कहा कि निर्माण कार्याें मंे गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत अगले तीन सालांे मंे 21 हजार गांवांे को जल संरक्षण के लिहाज से आत्मनिर्भर बनाया जाए। इस बार इस अभियान मंे 2100 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे। उन्हांेने कहा कि राज्य सरकार आमजन की समस्याआंे के समाधान करवाने को लेकर बेहद गंभीर है। उन्हांेने कहा कि न्याय आपके द्वार अभियान के तहत प्रथम चरण मंे 21 लाख एवं द्वितीय चरण मंे 40 लाख प्रकरणांे का निस्तारण कर आमजन को राहत पहुंचाई गई। उन्हांेने कहा कि मौजूदा समय मंे चल रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण पंचायत शिविरांे मंे श्रमिक कार्ड बनवाने समेत विभिन्न योजनाआंे से लाभांवित करवाया जाए। खाद्य सुरक्षा येाजना मंे नाम जुड़वाने के लिए भी नियमानुसार अपील करवाई जा सकती है। प्रभारी मंत्री ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान मंे ग्रामीणांे की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए बेहतरीन परिणामांे के जरिए जल संरक्षण के स्वप्न को साकार करने की अपील की। इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा एवं अधीक्षण अभियंता बलवीरसिंह ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत द्वितीय चरण मंे प्रस्तावित कार्याें एवं कार्य योजना के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी।

कोई टिप्पणी नहीं