Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

आमजन को राहत दिलाने के साथ विकास के नए आयाम स्थापित करें-गोयल

-जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी समन्वित प्रयासांे से कल्याणकारी योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन करें। बाड़मेर, 12 नवंबर। जन कल्याणकारी योजनाआंे के...

-जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी समन्वित प्रयासांे से कल्याणकारी योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन करें।

बाड़मेर, 12 नवंबर। जन कल्याणकारी योजनाआंे के प्रभावी क्रियान्वयन के साथ विकास के नए आयाम स्थापित करें। आमजन को राहत पहुंचाने के लिए जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी समन्वित प्रयास करते हुए योजनाआंे की क्रियान्विति मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। प्रभारी मंत्री एवं ग्रामीण विकास तथा पंचायतीराज मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने शनिवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे विकास योजनाआंे की समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।

प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान, बजट घोषणा, मुख्यमंत्री के निर्देश, आपका जिला आपकी सरकार के दौरान दिए निर्देशांे की पालना एवं संपर्क पोर्टल पर दर्ज होने वाले प्रकरणांे का गंभीरता से निस्तारण कर अधिकाधिक आमजन को लाभांवित किया जाए। उन्हांेने कहा कि विकास कार्याें को लेकर गंभीर रवैया अपनाया जाए। उन्हांेने कहा कि काम मंे रूचि नहीं लेने एवं लापरवाही बरतने वाले अधिकारियांे के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। फ्लैगशीप योजनाआंे को धरातल पर इस तरह से क्रियान्वित किया जाए कि आमजन भी इसके फायदांे से रूबरू हो सके।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान, स्वच्छ भारत मिशन, महात्मा गांधी नरेगा समेत विभिन्न विकास योजनाआंे मंे रूचि लेते हुए विकास कार्य करवाएं। रोजगार, स्थाई परिसंपतियांे के सृजन के जरिए बाड़मेर जिले को हर क्षेत्र मंे प्रथम स्थान पर पहुंचाया जाए। उन्हांेने मौसमी बीमारियों, डेंगू की रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि गंभीर मामलों को छोड़कर मरीजांे को जोधपुर रेफर करने के बजाय स्थानीय स्तर पर उपचार सुनिश्चित किया जाए। इस दौरान जलग्रहण परियोजनाआंे के बकाया भुगतान के मामले मंे प्रभारी मंत्री ने दूरभाष पर संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि अगर अनुमत लागत से अधिक कार्य करवाए है तो संबंधित अधिकारियांे के खिलाफ कार्रवाई की जाए। बैठक के दौरान बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन की ओर से उठाए गए सीवरेज लाइन संबंधित प्रकरण मंे जिला कलक्टर को समुचित जांच करवाकर आगामी बैठक मंे रिपोर्ट प्रस्तुत करवाने को कहा। उन्हांेने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन मंे बाड़मेर जिले मंे पिछले कुछ समय मंे अच्छा कार्य हुआ है। उन्हांेने जन प्रतिनिधियांे से दिसंबर माह तक प्रत्येक पंचायत समिति की आधी ग्राम पंचायतांे को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए प्रयास करने को कहा। उन्हांेने कहा कि मौजूदा समय मंे पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण शिविरांे का आयोजन किया जा रहा है। इसमंे आमजन की अधिकाधिक भागीदारी सुनिश्चित करवाकर उनको राहत पहुंचाई जाए।

चौहटन विधायक तरूणराय कागा ने कहा कि सरकारी योजनाआंे का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करवाया जाए। ताकि लोगांे को सरकारी योजनाआंे का लाभ मिल सके। उन्हांेने कहा कि गांव स्तर पर मेडिकल रिलीफ सोसायटी की बैठकांे का आयोजन करवाया जाए। उन्हांेने पेयजल योजनाआंे एवं लंबित कार्याें को प्राथमिकता से पूर्ण करवाने की जरूरत जताई। बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने बालेरा बांध का दुबारा निर्माण करवाने, समस्त चिकित्सालयांे मंे एएनएम की नियुक्ति करवाने का मामला उठाया। उन्हांेने राजकीय चिकित्सालयांे मंे अव्यवस्थाआंे का जिक्र करते हुए कहा कि मरीजांे को स्थानीय स्तर पर उपचार के बजाय जोधपुर रेफर किया जा रहा है। 

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने विकास योजनाआंे की प्रगति से अवगत कराते हुए कहा कि समीक्षा बैठक मंे दिए गए निर्देशांे की पालना करवाने के साथ आमजन को राहत पहुंचाने के प्रयास किए जाएंगे। समीक्षा बैठक के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने बताया कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के प्रथम चरण के 90 फीसदी कार्याें का भुगतान हो चुका है। उन्हांेने बताया कि द्वितीय चरण के कार्याें को चिन्हित किया गया है। इस दौरान केयर्न इंडिया की ओर से स्थापित किए जा रहे आरओ प्लांटांे को प्राथमिकता से लगवाने के निर्देश दिए गए।
बैठक मंे सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित ने स्वच्छ भारत मिशन के प्रचार-प्रसार, महिलावास मंे ट्रांसफार्मर लगवाने एवं बाढ़ बचाव कार्य शुरू करवाने का मामला उठाया। बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक डा़.गगनदीप सिंगला, गिड़ा प्रधान लक्ष्मणराम, सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित, गडरारोड़ प्रधान तेजाराम कोडेचा, बाड़मेर प्रधान पुष्पा चौधरी, धनाउ प्रधान भगवती, धोरीमन्ना प्रधान ताजाराम, सेड़वा प्रधान पदमाराम मेघवाल, अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच, अधीक्षण अभियंता बलवीरसिंह, जी.आर.सिरवी, नेमाराम परिहार, जी.आर.जीनगर समेत विभिन्न जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।

रोडवेज बसांे की समस्या का समाधान कर राहत प्रदान करेंः समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को बाड़मेर शहर मंे रोडवेज बसांे के प्रवेश संबंधित प्रकरण का समाधान कर आमजन को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि बाड़मेर प्रवास के दौरान अधिकतर लोग इस समस्या से अवगत कराते है। बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन, चौहटन विधायक तरूणराय कागा, प्रधान पुष्पा चौधरी समेत अन्य जन प्रतिनिधियांे ने भी इसको वाजिब बताते हुए कहा कि आमजन की जरूरत को समझते हुए रोडवेज बसांे को शहर मंे प्रवेश की अनुमति दी जाए। चौहटन विधायक तरूणराय कागा ने कहा कि गरीब लोग रोडवेज बसांे मंे सफर करते है ऐसे मंे बसांे का शहर मंे प्रवेश बंद करने से उनको परेशानी हो रही है। प्रभारी मंत्री ने आमजन को राहत पहुंचाने के लिए इस समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए।

कोई टिप्पणी नहीं