Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बालोतरा,राजपूत छात्रावास में मारवाड़ के शहीदों को दी श्रदांजलि

बाड़मेर/बालोतरा। स्थानीय वीर दुर्गादास राजपूत छात्रावास में श्री क्षत्रिय युवक संघ द्वारा पाकिस्तान सीमा पर मातृभूमि की रक्षा के लिए आतंकवादि...

बाड़मेर/बालोतरा। स्थानीय वीर दुर्गादास राजपूत छात्रावास में श्री क्षत्रिय युवक संघ द्वारा पाकिस्तान सीमा पर मातृभूमि की रक्षा के लिए आतंकवादियो से लोहा लेते अपनी जान न्यौछावर करने वाले भारतीय सेना के अमर शहीद प्रेम सिंह सारण, नरपत सिंह राजमथाई, प्रभु सिंह खिरजा ख़ास शेरगढ़, को  दो मिनट का मौन रखकर व् केण्डल जलाकर पुष्पांजली अर्पित कर भावभिनी श्रद्धांजलि दी गई।

श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए वयोवृद्ध शिक्षाविद् देवी सिंह दाखा ने कहा की मातृ भूमि की रक्षा के लिए जान न्यौछावर करने वाले अमर शहीद वीर सैनिकों के माता पिता धन्य है। साथ ही भारतीय सेना की वीरता को नमन करते है। वर्तमान हालात में पडौसी दुश्मन देश की नापाक हरकतों को भारतीय सेना के वीर जवान करारा जवाब दे रहे है। हमारे पश्चिमी राजस्थान की वीरभूमि का इतिहास सैकड़ो वर्ष पुराना है यहाँ यह कहे की शूरवीरों की भूमि तो कोई अतिश्योक्ति नहीं।
चन्दन सिंह चान्देसरा, हुकम सिंह अजीत, घनश्याम सिंह शेखावत, महेंद्र सिंह गोलिया, राजेन्द्र सिंह कंवरली ने श्रद्धांजलि सभा को संबोधित किया।

जसवंत सिंह बुड़ीवाड़ा ने अमर शहीदों की याद में पूज्य तन सिंह जी द्वारा रचित "जलवे रण के दिखा गए" देशभक्ति गान की प्रस्तुति दी।
इस दौरान 
फ़तेह सिंह जसोल, रतन सिंह दाखा, मनोहर सिंह टापरा, गणपत सिंह डाबड़, देवी सिंह किटपाला, जोगेन्द्र सिंह सोढ़ा, पृथ्वी सिंह थोब, महेंद्र सिंह रतरेड़ी, लाख सिंह काकराला,  सवाई सिंह जाजवा, छात्रावास वार्डन बलवंत सिंह कोटड़ी, वैरिसाल सिंह कालेवा, नरपत सिंह उमरलाई , मोड़ सिंह भुंका, हेम सिंह भाटी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं