Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

स्वच्छ भारत मिशन में जिला सदंर्भ समुह महत्वपूर्ण भूमिका निभायें:सोढा

बाड़मेर, 30 नवम्बर। प्रत्येक घर में शौचालय निर्माण एवं उसका उपयोग सुनिश्चित करने के लिए ग्रामीण समुदाय को प्रेरित करने में जिला सदर्भ ...

बाड़मेर, 30 नवम्बर। प्रत्येक घर में शौचालय निर्माण एवं उसका उपयोग सुनिश्चित करने के लिए ग्रामीण समुदाय को प्रेरित करने में जिला सदर्भ समुह महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं।

जिला परियोजना समन्वयक स्वस्छ भारत मिशन पुष्पेन्द्रसिंह सोढा ने बुधवार को जिला मुख्यालय पर जाट चेरिटेबल ट्रस्ट में स्वस्छ भारत मिशन के तहत जिला सदंर्भ समुह के तीन दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण के समापन के अवसर पर यह बात कही।
सोढा ने बताया कि जिला सदंर्भ समुह ग्रामीण इलाकों में आमजन को स्वस्छता एवं स्वास्थ्य से जुड़े विविध पहलूओं की जानकारी आमजन को देकर जागरूक करने का कार्य करे। उन्होने कहा कि इस प्रशिक्षण में शामिल सभांगी प्रशिक्षित होकर सी.एल.टी.एस. विधि से ग्रामीणों को जागरूक कर जिले को मार्च, 2018 तक खुले मे शौच मुक्त कराने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगें। तथा ग्राम पंचायत स्तर पर कार्यरत प्रधानाध्यापक, प्रधानाचार्य, व्याख्याता, अध्यापक, पटवारी, ग्रामसेवक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सुपरवाजर, आशासयोगनी, ए.एन.एम, साक्षरता पे्ररक, व्यवस्थापक, राशन डीलर आदि का सहयोग लेते हुए सामुहिक प्रयासों से ग्राम पंचायत को खुले में शौच मुक्त करेगे। इस दौरान डब्ल्यु.एस.पी.के. रमेश अग्रवाल ने कहा कि जिला सदंर्भ समुह सदस्य ग्राम पंचायत स्तर पर लोगो को संगठित एवं जागरूक करके खुले में शौच से मुक्त करने का प्रयास करेगे एवं प्रत्येक ग्राम पंचायत में वार्ड वार निगरानी समितियां बनाइगे। जिसमें जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों के साथ- साथ ग्रामीणों को भी जिमेदारी देगे।
कार्यक्रम मेें डब्ल्यु.एस.पी.के. ऋषि कुमार ने कहा कि बाड़मेर जिले में स्वस्छ भारत मिशन में पिछले कई महीनों से तेजी से गति पकड़ी है इस तरह कार्य करेगे तो बाड़मेर जिले को शीघ्र ही खुले में शौच मुक्त से घोषित हो सकेगा।
चेतन अत्रे ने कहा कि बाड़मेर में सभी अधिकारी व जनप्रतिनिधि एक मिशन के रूप में कार्य कर रहें है इस गति को बनाये रखना है जिससे गन्दगी के इस अभिशाप से मुक्ति पा सके।
कार्यक्रम में ब्लाॅक काॅडिनेटर गोविन्दसिह, दिपसिह, कपिलदेव, घमंडाराम, प्रहलाद कुमार आदि उपस्थित थे। अन्त में सभी सम्भागियों ने मोमबत्ती जलाकर स्वच्छता की शपथ लेते हुए स्वच्छता गीत के माध्यम से बाड़मेर जिले को खुले से शौच मुक्त का संकल्प लिया।

कोई टिप्पणी नहीं