Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

फलसूण्ड। क्षेत्र मे उचित मूल्य दुकान नियमित नहीं खुलने से आमजन परेशान

@ गणेश जैन जैसलमेर/फलसुंड। क्षेत्र के गांवों में सरकारी उचित मूल्य दुकान पर अनियमितता के चलते समय पर नहीं खुलने से व राशन डीलर की मनमा...

@ गणेश जैन

जैसलमेर/फलसुंड। क्षेत्र के गांवों में सरकारी उचित मूल्य दुकान पर अनियमितता के चलते समय पर नहीं खुलने से व राशन डीलर की मनमानी के चलते हैं आम जन को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गांव व ढाणीयो के कुछ वार्ड मैं राशन डीलर की मनमानी से आमजन समय पर राशन नहीं मिल पाने से भटकने को मजबूर है। राशन डीलर नियम अनुसार दुकान नहीं खोल कर शाम के समय दो से 4 घंटे दुकान खोलकर राशन वितरित किया जाता है। राशन की दुकान महीने में शुरुआती दिनों में दो-चार दिन वह महीने के अंतिम दिनों में दो-तीन दिन खोलकर अतिशयोक्ति कर लेते हैं।
महीने के शुरूआती वह अंतिम दिनों में कुछ दिन दुकान खोलने से दुकान पर भीड़ लगी रहने से आम जन को राशन लेने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। जबकि राशन की दुकान का लाइसेंस महीने व साप्ताहिक अवकाश राजकीय अवकाश को छोड़कर खुली रखने के आदेश हैं। विभाग  द्वारा समय समय पर राशन डीलरों  की दुकानों की जांच की जाए तो आमजन को समय पर राशन उपलब्ध हो सकेगा। जिसके कारण दुकान पर भीड़ जमा नहीं होगी व आम जन को समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

राशन डिलर दे रहे है दो लीटर केरोसिन वो भी 20 रुपए लीटर रशद विभाग की दलील उपभोत्ता ले पुरा ढाई लीटर केरोसिन वो भी 17 रुपए 50 पैसे प्रती लीटर  यानी आधा लीटर केरोसिन का डिलर कर रहे गोलमाल। और तो और केरोसिन पर भी प्रती कुपन पांच रुपए कमा रहे है, यानि की दोनो हाथो में डिलरो के लड्डु। इसे कहते है गरीबो के अच्छे दिन आ गए वही डिलरो की दलील पोष मशीन मे दो लिटर ही बताता है। वही उपभोक्ताओं को पर्ची भी नही देते हैं। यह जैसलमेर जिले की भणियाणा तहसिल मे चल रही राशन की दुकानो का हाल है।

कोई टिप्पणी नहीं