Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

ठंड से छुटी धुजनी शीतलहर ने बढाई ठिठुरन

@ प्रकाश राठौड़ जालोर/मालवाड़ा। कस्बे सहित आसपास के समुचे क्षैत्र में इन दिनो सर्दी के तेवर तेज होते नजर आ रहे है साथ ही ठंडी हवाओ के च...

@ प्रकाश राठौड़

जालोर/मालवाड़ा। कस्बे सहित आसपास के समुचे क्षैत्र में इन दिनो सर्दी के तेवर तेज होते नजर आ रहे है साथ ही ठंडी हवाओ के चलने से लोगो की दिनचर्या में काफी फेरबदल दिखाई दे रहा है। अल सुबह से लेकर करीबन दस बजे तक घना कोहरा छाया रहा, सवरे से ही कोहरा छाया रहा लोगो के मुह से भाप निकलती रही तथा नाक से पानी बहता रहा।
गर्म कपडे मफलर, स्वेटर आदि से भी सर्दी का अहसास कम नही हुआ। सारा क्षैत्र कडाके की ठंड व शीत लहर के आगे बेबस होकर हथियार डालता नजर आया। बुढों ने तो मारवाडी भाषा में कहना शुरू कर दिया "सियाले रो संधाणो करनो पडसी" यानि कि सोठ व उदड, गोंद, बादाम, सुजी आदि से बने लडडु बनाने पडगें। वही युवाओ का जोर हल्दी, आलु, प्याज, ग्वारपाठा, गाजर, दाल का हलवा,दुध जलेबी पर ज्यादा है। वही सर्दी की मार सबसे ज्यादा बुर्जुर्गो व मुक पशुओ व अबोध बच्चो पर ज्यादा नजर आ रहा है।  पर सर्दी की ठिठुरन से बचने के लिए दिनभर कई लोग उनी लबादो में लिपटे नजर आए तो कही अलावा तापते नजर आये।

कोई टिप्पणी नहीं