Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

जालोर। ग्रामीण बैकों में नोटों की किल्लतआज भी बरक़रार

@ देवराज राजपुरोहित  जालोर/थलवाड़। कस्बे के धानसा राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक में नोटों की कमी के चलते आम जन अत्यधिक परेशान है। बैं...

@ देवराज राजपुरोहित 

जालोर/थलवाड़। कस्बे के धानसा राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक में नोटों की कमी के चलते आम जन अत्यधिक परेशान है।
बैंक में कैश की कमी के चलते लोगों को पूरे दिन लाईन में लगने के बाद भी चार हजार रुपयें मुश्किल  से मिल पा रहे है। कई लोगों को पूरे दिन लाईन में लगने के बाद भी  अपनी बारी का इंतजार करते-करते बैंक समय पूरा होने के बाद खाली हाथ घर लौटना पडता है।
लोगों का कहना है कि जालोर, भीनमाल जैसे शहरी क्षेत्रों में तय दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति को साप्ताहिक चौबीस हजार रुपयें मिल रहे है, जबकि गॉवों में रोजमर्रा की आवश्यकताएं पूरी करने के लिए भी लोगों के पास पैसे नही है।
धानसा के इस बैंक के कार्यक्षेत्र के दायरे में धानसा, धनानी,थलवाड़, लोदराऊ और सेरणा गॉव आते है इन पाँच गॉवों के लोगों के लिए कैश हेतु एकमात्र इसी बैंक का सहारा है। इन गॉवों में से धानसा एक ऐसा गाँव है, जो जसवंतपुरा तहसील का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसें बड़ा गॉव है और जनसंख्या की दृष्टि से भी काफीबड़ा गॉव है। आसपास के गॉवों के लोग भी  इस बैंक के ग्राहक होने के कारण भीड़ अत्यधिक ज्यादा रहती है।

आसपास के गॉवों के लोग प्रतिदिन होते है परेशान
धानसा के इस बैंक के कार्यक्षेत्र के दायरे में धानसा, धनानी,थलवाड़, लोदराऊ और सेरणा गॉव आते है इन पाँच गॉवों के लोगों के लिए कैश हेतु एकमात्र इसी बैंक का सहारा है।
आसपास के इन गॉवों के लोग प्रतिदिन किराया देकर वाहनों में धानसा आते है और लाइनों में लग जाते है, शाम तक भी अपनी बारी नही आने के कारण दूसरे दिन फिर से आना ही पडता है।



इनका कहना है
राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक धानसा में नोटों की कमी के चलते आम जन अत्यधिक परेशान है। बैंक में कैश की कमी के चलते लोगों को पूरे दिन लाईन में लगने के बाद भी चार हजार रुपयें मुश्किल  से मिल पा रहे है। आम जनता में नोटबंदी से होने वाली असुविधाओं के कारण आक्रोश व्याप्त है।
(विक्रमसिंह राठौड़, ग्रामीण धानसा)

इनका कहना
कैश की कमी के चलते आज प्रत्येक खाता धारक को चार-चार हजार रुपयें वितरित किए  गए है। कैश की आपुर्ति होने के बाद प्रत्येक खाता-धारक को इससे अधिक राशि देने का प्रयास करेंगे।
(अंकित जैन शाखा प्रबंधक राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक, धानसा)

कोई टिप्पणी नहीं