Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

राजकीय भुगतानों में शुद्वता सुनिश्चित करने के निर्देश

बाड़मेर, 23 जनवरी। वित विभाग ने राजकीय भुगतानों में शुद्वता सुनिश्चित करने के लिए आहरण एवं वितरण अधिकारियों को जनवरी माह में आवश्यक कार्यव...

बाड़मेर, 23 जनवरी। वित विभाग ने राजकीय भुगतानों में शुद्वता सुनिश्चित करने के लिए आहरण एवं वितरण अधिकारियों को जनवरी माह में आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।
कोषाधिकारी दिनेश बारहठ ने बताया कि वित विभाग के निर्देशानुसार राजकीय दावों के बिलों को संशोधित जीए फार्म में आनलाइन सिस्टम पर तैयार कर कोषालय,उप कोषालय में आनलाइन फारवर्ड करने एवं उसी दिन सिस्टम जनरेटेड हस्ताक्षरित हार्ड कापी मय नियमानुसार सिस्टम पर अपलोड किए गए दस्तावेजों के साथ प्रेषित किया जाना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि सामान्य वित्तीय एवं लेखा नियमों के खंड तृतीय में संशोधित कर विभिन्न बिलों के लिए नए जीए फार्म निर्धारित किए गए है। ऐसे में भविष्य में इन्ही प्रपत्रों में सिस्टम पर जनरेट किए गए बिल ही पारित किए जाने के लिए मान्य होंगे। हाथ से भरे गए प्रपत्र एवं आफ लाइन विपत्र स्वीकार्य नहीं होंगे। इस प्रक्रिया में डीडीओ द्वारा सिस्टम पर कोषालय को आनलाइन बिल फारवर्ड करने में दो कार्य दिवस के अंदर उसी बिल की सिस्टम जनरेटेड हस्ताक्षरित हार्ड कापी भौतिक रूप से कोषालय में प्रस्तुत किया जाना मेन्डेटरी होगा। डीडीओ के ई साईन, डिजिटल साइन किए जाने की व्यवस्था चरणबद्व रूप से सिस्टम पर उपलब्ध कराई जाएगी। आईएफएमएस सिस्टम के लागू होने से पूर्व के राज्य कर्मचारियों के भुगतानों से संबंधित प्रकरणों में सक्षम स्वीकृति के बाद ही मास्टर डाटा तैयार कर आनलाइन बिल के जरिए राशि का आहरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि विस्तृत दिशा-निर्देशों के लिए वित विभाग राज्य सरकार की बेवसाइट पर 27 अक्टूबर 2016 के परिपत्र संख्या 10041 का अवलोकन करते हुए उसके अनुरूप कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करवाएं।

कोई टिप्पणी नहीं