Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

कुर्जा में दूसरे दिन महोत्सव में कई धार्मिक अनुष्ठानों का हुआ आयोजन

विशाल व भव्य वरघोड़ा हुआ आयोजित हजारों जैन धर्मावलम्बी हुए शामिल माता के जयकारो से गुंजा आसमान वरघोड़ा जगह-जगह पर हुआ भव्य स्वागत ...

  • विशाल व भव्य वरघोड़ा हुआ आयोजित हजारों जैन धर्मावलम्बी हुए शामिल
  • माता के जयकारो से गुंजा आसमान
  • वरघोड़ा जगह-जगह पर हुआ भव्य स्वागत

बाड़मेर। श्री संच्चियाय माता मन्दिर कुर्जा में भव्यातिभव्य प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के दूसरें दिन शनिवार को श्री संच्चियाय माता जी के प्राण प्रतिष्ठा का भव्य अति भव्य, विशाल एवं ऐतिहासिक वरघोड़ा सकल संघ की उपस्थिति में गाजे-बाजे  के साथ आयोजित हुआ। 
मां सच्चिायाय के भव्य वरघोड़े में सैकडो की संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया
संच्चियाय माता मन्दिर प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के संयोजक मांगीलाल मालू व सहसंयोजक दिलिप मालू ने बताया कि संच्चियाय माता जी का आधा किलोमीटर लम्बा, विशाल एवं भव्य वरघोड़ा डां रणजीतमल जैन के मकान के पास छोटी ढाणी से प्रारम्भ हुआ। वरघोड़ा को मालू भाईपा समाज के अध्यक्ष हुक्मचचन्द मालू एवं प्रतिष्ठा महोत्सव के मुख्य संयोजक मांगीलाल मालू ने हरी झण्ड़ी दिखाकर रवाना हुआ। वरघोड़े की अग्रणी पंक्ति में, घोड़े, ऊंट, हाथी, प्रतिष्ठा महोत्सव का बैनर, दुध रथ, बैण्ड पार्टी, ढ़ोल पार्टी कलशधारी सैंकड़ों महिलाए चार सज्जे-धजे रथ, शहनाई, मां सच्चियाय का रथ, मां सच्चियाय की झांकी सहित सेकडो जैन समुदाय के महिला-पुरूष उपस्थित रहे। आकषर्क एवं मनोहारी वरघोड़े का जगह-जगह पर भव्य स्वागत एवं अभिनन्दन हुआ।
यहा से गुजरा वरघोड़ा
मां संच्चियाय का वरघोडा नेमीचन्द गुलेच्छा की गली छोटी ढाणी से रवाना होकर प्रताप जी की पोल, जैन न्याति नोहरा, जवाहर चौक, सब्जी मण्डी, गांधी चौक, स्टेशन रोड, सुभाष चौक, माणक हास्पीटल के पास, आराधना भवन, करमु जी की गली, मोक्ष मार्ग, महावीर सर्कल होता हुआ कार्यक्रम स्थल संच्चियाय माता मन्दिर पहुँचा जहां प्रवेश द्वार पर भव्य वरघोड़े एवं अपार जनमैदिनी का मांगलिक रंगोली बनाकर स्वागत किया गया। वहीं वरघोड़े में शोभायात्रा संयोजक सज्जनराज मेहता के नेतृत्व मे भूरचन्द बोहरा, कैलाश मालू झाख, नेमीचन्द मालू, सुरेश आरंग, पवन मालू पटुडा, रतनलाल मालू, ओमप्रकाश बोथरा, गौरव बोहरा सहित कई कार्यकर्ताओं ने अपनी विशेष सेवाएं देते हुए वरघोड़े को ऐतिहासिक बनाया।

आज ये हुए आयोजन 
प्रतिष्ठा महोत्सव के द्वितीय दिन प्रातः पूजन,, शान्ति-पौष्टिक होम, अधिवास, वेदादिहोम, स्नपनप्रयोग, न्यासप्रयोग, शायन पूजन, संध्या आरती, शैयाधिवास का हुआ आयोजन। इसी तरह से 12 फरवरी तीसरे दिन प्रातः पूजन, वास्तुप्रयाोग, माताजी का स्हस्त्रार्चन महापूजन, प्राण-प्रतिष्ठा, प्रतिष्ठा होम, उतरपूजन, पूर्णाहुति के बाद स्वामीवात्सल्य होगा। वही 13 फरवरी चौथे दिन प्रातः द्वार उद्घाटन व महाआरती के साथ ही महोत्सव का समापन होगा।

धर्मसभा का हुआ आयोजन, भक्ति व चढावो में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब
महोत्सव के दुसरे दिन शनिवार को वरघोड़े के बाद दोपहर में संच्चियाय माता रंग मण्डप में भव्य अति भव्य स्टेज प्रोग्राम एवं विभिन्न चढ़ावों की बोलियां बोली गई जिसमें गुरूभक्तों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया । कार्यक्रम एवं धर्मसभा में बड़ी संख्या में जैन समुदाय के लोगों ने शिरकत की । 
अखिल भारतीय मालू भाईपा समाज के अध्यक्ष हुक्मीचन्द मालू ने बताया कि शनिवार को में संच्चियाय माता रंग मण्डपदिन में भक्ति भावना व चढावो के साथ नत्य,व रात्रि भक्ति भावना का आयोजन हुआ। साथ ही प्रातः दोपहर एवं शाम को लाभार्थी परिवारों की ओर से नवकारसियों का आयोजन हुआ। जिसमें देश भर से हजारों श्रद्धालुओं, मां भक्तों सहित कई संघो के पदाधिकारियों ने प्रतिष्ठा महोत्सव कार्यक्रम ने भाग लिया।

अखिल भारतीय मालू जैन भाईपा समाज द्वारा नवनिर्मित मालू गौत्रीय कुलदेवी संच्चियाय माता मन्दिर प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के दूसरें दिन शनिवार को महोत्सव समिति के संच्चियाय माता रंग मण्डप विभिन्न चढ़ावों के लाभार्थी परिवारों एवं अतिथियों का महोत्सव समिति की ओर से तिलक, माला, साफा, श्रीफल एवं स्मृति-चिन्ह से बहुमान-सम्मान किया गया। अभिनन्दन अवसर पर बड़ी संख्या में जैन धर्मावलम्बी एवं उनके परिजन उपस्थित रहे।
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के प्रवक्ता कपिल मालू ने बताया कि चार दिवसीय प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव में दिन प्रति दिन कई प्रकार के यज्ञ आहुतियो के अनुष्ठानों के साथ-साथ माता की भक्ति व साधर्मिक भक्ति को लेकर नवकारसियों का आयोजन हो रहा है। इसी कड़ी में शनिवार को प्रतिष्ठा महोत्सव के दुसरे दिन प्रातः दोपहर एवं शाम की नवकारसी के लाभार्थी परिवारों का प्रतिष्ठा महोत्सव समिति की ओर साफा, माला, तिलक श्रीफल एवं स्मृति-चिन्ह से स्वागत एवं अभिनन्दन किया ।
शनिवार को प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के दूसरें दिन मुख्य संयोजक मांगीलाल मालू, बाडमेर विधायक मेवाराम जैन, नाकोड़ा जैन तीर्थ के अध्यक्ष अमृतलाल जैन, जैन श्री संघ के अध्यक्ष सम्पतराज बोथरा, मोतीलाल मालू, बाबूलाल मालू, रिखबदास मालू, इन्द्रचन्द मालू, मोहनलाल मालू, मांगीलाल मालू जनता, पुखराज माल, पारसमल गोठी, बीडी मालू, लूणकरण मालू, प्रकाश मालू आदि बाड़मेर, धोरीमन्ना, नवसारी, जौधपुर, रामसर, चौहटन व भूरचन्द मारसा, मुकेश बोहरा,मागीलाल संखलेचा, युवा मण्डलों सहित हजारों की संख्या में जैन समुदाय के महिला-पुरूष उपस्थित रहे। वहीं विभिन्न मण्डलों, संस्थाओं,  कार्यकर्तागण व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने में लगे रहे।

कोई टिप्पणी नहीं