Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

प्रदेश के बाड़मेर समेत पांच जिलों के अधिकारियों की दो दिवसीय कार्यशाला प्रारंभ

सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम में विकसित होंगे स्मार्ट विलेज बाड़मेर, 08 फरवरी। सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम के स्मार्ट विलेज बन...

सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम में विकसित होंगे स्मार्ट विलेज
बाड़मेर, 08 फरवरी। सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम के स्मार्ट विलेज बनाए जाएंगे। स्मार्ट सिटी की तरह इनमें पार्क, स्ट्रीट लाईट, गंदे पानी की सही निकासी, नियमित सफाई व्यवस्था के साथ अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। सीमांत क्षेत्र क्षेत्र कार्यक्रम संबंधित कार्यशाला के दौरान स्मार्ट विलेज के चयन एवं इसमें कराए जाने वाले कार्याें के प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए गए।

कार्यशाला के दौरान परियोजना निदेशक अरूण सुराणा ने 14वें वित्त आयोग एवं राज्य वित्त आयोग तथा स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को स्मार्ट विलेज बनाने की कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि स्मार्ट विलेज में पार्क विकसित किए जाएंगे जिसमें बच्चों के खेलने, लोगों के बैठने की व्यवस्था के साथ पार्क की चारदीवारी निर्माण कराया जाएगा। इस दौरान सुराणा ने संबंधित अधिकारियों को अधिक जनसंख्या एवं अधिकतम बीस किमी के दायरे में आने वाले गांवों को स्मार्ट विलेज के रूप में चयनित करने के निर्देश दिए।
स्मार्ट विलेज में उपलब्ध कराए जाएगी सुविधाएंः स्मार्ट विलेज में शिक्षा, स्वास्थ्य,कृषि, पानी, स्वच्छता, विद्युत, आवास,सोलिइट वाटर मेनेजमेंट, दूरसंचार सुविधा, वर्षा जल संग्रहण समेत विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं