Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कल

बाड़मेर, 08 फरवरी। बच्चों में कुपोषण की रोकथाम, शारीरिक एवं मानसिक विकास के लिये चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग एवं विभिन्न स्वयंसेवी संस्...

बाड़मेर, 08 फरवरी। बच्चों में कुपोषण की रोकथाम, शारीरिक एवं मानसिक विकास के लिये चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग एवं विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं की ओर से शुक्रवार को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति (डी वर्मिंग) दिवस मनाया जाएगा।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर कार्यक्रम के तहत 1 से लेकर 19 वर्ष तक के बच्चों एवं किशोरों को आंगनबाडी केन्द्रों, सरकारी-निजी विद्यालयों एवं मदरसों में पेट के कीड़े मारने की दवा एलबेंडाजोल दवा निशुल्क खिलाई जाएगी। इसके उपरांत 15 फरवरी को मॉप अप दिवस मनाया जाएगा। इसी दिन 10 फरवरी को छूटे हुए बच्चों को एलबेंडाजोल गोली खिलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि आंगनबाडी केन्द्रों में 1 से 2 वर्ष तक के बच्चे को एल्बेंडाजोल 400 एमजी की आधी गोली को दो चम्मच के बीच में रखकर चूरा करके स्वच्छ पीने के पानी में घोलकर बच्चों को पिलाई जाएगी। इसी तरह 2 से 6 साल के बच्चे को 1 गोली चबाकर खाने को दी जाएगी। जो बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं उन्हें भी आंगनवाड़ी केन्द्रों के मार्फत दवा खिलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि यह दवा पूर्ण सुरक्षित है जो बच्चे स्वस्थ दिखें, उन्हें भी ये खिलाई जानी हैं क्योंकि कृमि संक्रमण का प्रभाव कई बार बहुत वर्षों बाद स्पष्ट दिखाई देता है। दवा से पेट के कीड़े मरते हैं, इसलिए कुछ बच्चों में जी मिचलाना, उल्टी या पेट दर्द जैसे सामान्य छुट-पुट लक्षण हो सकते हैं लेकिन ये सामान्य व अस्थाई हैं जिन्हें आंगनवाड़ी व विद्यालय में संभाला जा सकता है। सामान्य बीमार बच्चों को भी दवा दी जा सकती है हाँ मिर्गी के दौरे आने वाले बच्चों को ये दवाई नहीं पिलाई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं