Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

धौलपुर लिफ्ट परियोजना के लिए 800 करोड रूपये की बजट घोषणा से खुशी की लहर

@ रोहित शर्मा धौलपुर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे द्वारा बुधवार को विधानसभा में प्रस्तुत राज्य बजट को राज्य के विकास का दस्तावेज...

@ रोहित शर्मा

धौलपुर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे द्वारा बुधवार को विधानसभा में प्रस्तुत राज्य बजट को राज्य के विकास का दस्तावेज बताते हुए जिले के जनप्रतिनिधियों, किसानों, व्यापारियों और आमजन ने मुख्यमंत्राी का आभार प्रकट किया है। 

राज्य पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष जगमोहन सिंह बघेल, सांसद डॉ0 मनोज राजोरिया, जिला प्रमुख डॉ0 धर्मपाल सिंह, बसेडी विधायक रानी सिलोटिया, पूर्व विधायक सगीर खान, जसवन्त सिंह गुर्जर, शिवराम कुशवाहा, रविन्द्र सिंह बोहरा, शोभारानी कुशवाह, बहादुर सिंह त्यागी, धौलपुर नगरपरिषद के पूर्व सभापति रीतेश शर्मा, विवेक बोहरा, अकील अहमद ने एक स्वर में बजट को आमजन के लिए बढिया तथा सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय की अवधारणा पर आधारित बताया।
बघेल ने बताया कि राज्य के विकास के लिए विजन-2020 की जो परिकल्पना की गई थी, उसे इस बजट द्वारा धरातल पर लाया जायेगा। ‘‘खुशहाल राजस्थान-खुशहाल राजस्थानी’’ और ‘‘समग्र विकास, बस यही प्रयास’’ को साकार किया गया है। धौलपुर लिफ्ट परियोजना के लिए 800 करोड रूपये की घोषणा से धौलपुर और राजाखेडा के किसानों और आमजन में खुशी की लहर है।
परियोजना के पूरा होने पर धौलपुर के 114 और राजाखेडा के 62 गॉंवों की 34 हजार हैक्टेयर कृषि भूमि सिंचित होगी।
सांसद डॉ0 मनोज राजोरिया ने बताया कि बजट धौलपुर जिले के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।

क्या मिला धौलपुर को-
धौलपुर लिफ्ट परियोजना -इसके लिए 800 करोड रूपये की घोषणा से धौलपुर और राजाखेडा के किसानों और आमजन में खुशी की लहर है।
परियोजना के पूरा होने पर धौलपुर के 114 और राजाखेडा के 62 गॉंवों की 34 हजार हैक्टेयर कृषि भूमि सिंचित होगी।
जिला अस्पताल का नया भवन-जिला अस्पताल के कन्जेस्टेड एरिया में होने तथा मरीजों की बढती संख्या को देखते हुए भवन के छोटा पडने के कारण 100 करोड रूपये की लागत से अस्पताल का नया भवन और क्वार्टर्स बनाने की घोषणा की गई है।
धौलपुर-राजाखेडा सडक का सुदृढीकरण-धौलपुर -राजाखेडा सडक के 32 किमी हिस्से के नवीनीकरण और सुदृढीकरण की घोषणा, शेष हिस्से के नवीनीकरण का कार्य प्रगति पर है।
मासलपुर-बसेडी-जगनेर सडक का विकास-खनिज की दृष्टि से महत्वपूर्ण इस सडक के विकास की घोषणा, इससे पत्थर उद्योग को नया बल मिलेगा।
ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट की डीपीआर हो रही तैयार-धौलपुर समेत पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों में सिंचाई और पेयजल की दृष्टि से महत्वपूर्ण इस योजना के सम्बन्ध में खुशखबरी दी गई कि विस्तृत परियोजना रिपोर्ट(डीपीआर) तैयार करने का कार्य प्रगति पर है।
धौलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए 1 करोड रूपये-पूर्व में घोषित धौलपुर इंजीनिरिंग कॉलेज के लिए 1 करोड रूपये देने की घोषणा।
धौलपुर, राजाखेड और बाडी में अन्नपूर्णा रसोई-इन तीनों शहरों में इस योजना के शुरू होने से आमजन को गुणवत्तापूर्ण भोजन व नाश्ता बहुत कम कीमत में उपलब्ध हो सकेगा।
वाई-फाई-धौलपुर, राजाखेड और बाडी में बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, पर्यटन स्थलों व अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर वाई-फाई सुविधा शुरू करने की घोषणा।
ब्लड बैंक का क्रमोन्नयन-जिला अस्पताल के ब्लड बैंक को ब्लड कम्पोनेन्ट सेपरेशन यूनिट में क्रमोन्नत करने की घोषणा। इससे डेंगू समेत अन्य बीमारियों के ईलाज में सुविधा मिलेगी।
स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सुविधा-स्तन कैंसर की स्क्रीनिंग, जॉंच और इलाज की सुविधा जिला अस्पताल में शुरू करने की घोषणा।
पंचकर्म केन्द्र- जिला आयुर्वेद अस्पताल में पंचकर्म केन्द्र खोलने की घोषणा।
बाडी शहर में आर ओ प्लान्ट्स- वर्तमान में बाडी शहर की कुछ बाहरी कॉलोनियों में पीएचईडी पाइपलाइन से पानी सप्लाई करने के बजाय नलकूप से जुडी पेयजल टंकियो से पानी सप्लाई कर रहा है। इन कॉलोनियों को शुद्व पेयजल सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए आर ओ प्लान्ट्स लगाने की घोषणा।
सैंपऊ में सब ट्रेजरी का नया कार्यालय-सैंपऊ उप कोष कार्यालय का नया भवन बनाने की घोषणा। इससे कार्मिकों, पेंशनर्स व आमजन को बेहतर सुविधा मिलेगी।
धौलपुर में पारिवारिक न्यायालय-जिला मुख्यालय पर पारिवारिक न्यायालय खोलने की घोषणा।
अपराजिताः वन स्टोप क्राइसिस मेनेजमेन्ट सेन्टर फॉर वूमेन-संकटग्रस्त महिलाओं को एक ही छत के नीचे चिकित्सा, विधिक पुलिस सम्बन्धी परामर्श देने व मानसिक सम्बल प्रदान करने के लिए जिला मुख्यालय पर यह केन्द्र खोला जायेगा। अभी तक राज्य में ऐसा 1 ही केन्द्र है जो राजधानी के जयपुरिया अस्पताल में संचालित है। जिले के 1 विद्यालय में विज्ञान संकाय खोलने की घोषणा भी की गई है। जयपुर को आगरा से सीधे हवाई मार्ग से जोडने से जिले में पर्यटन को नया आयाम मिलने की उम्मीद है।
इन घोषणाओं के अतिरिक्त शिक्षाकर्मी, पैराटीचर, मदरसा पैरा टीचर के मानदेय में 10 प्रतिशत तथा कुक कम हैल्पर के मानदेय में 200 रूपये की वुद्धि, बेहतर कार्य करने वाली आंगनबाडी कार्यकताओं को 250 से 500 रूपये प्रतिमाह प्रोत्साहन राशि, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, सहयोग, सुखद दाम्पत्य आदि योजनाओं में अनुदान राशि की बढोतरी का भी विभिन्न लोगों ने स्वागत किया है।

कोई टिप्पणी नहीं