Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

फलसुण्ड। स्कूलों में पोषाहार का निरिक्षण नहीं, आदेशों की हो रही अवहेलना

@ गणेश जैन  जैसलमेर/फलसूण्ड। उप तहसील क्षेत्र मे अधिकारीयो कि मिली भक्त से बच्चो को नही मिल रहा है लाभ। जिले की सरकारी स्कूलो मे सरक...

@ गणेश जैन 

जैसलमेर/फलसूण्ड। उप तहसील क्षेत्र मे अधिकारीयो कि मिली भक्त से बच्चो को नही मिल रहा है लाभ। जिले की सरकारी स्कूलो मे सरकार के कक्षा एक से आठ तक अध्ययनरत छात्रों को गुणवत्ता युक्त मिड डे मील के साथ सप्ताह में एक दिन छात्रों को फल वितरण के आदेश हैं। इसके बावजूद  क्षेत्र के सैकड़ों स्कूलो में पकने वाले मिड डे का प्रभावी निरिक्षण नहीं होने के कारण छात्रों को ना तो गुणवत्ता युक्त मिड डे मील नही  मिल रहा है ना ही फल। इसको लेकर ना तो शिक्षा विभाग गंभीर है ना हीं प्रशासन जिसके चलते कई जगह तो कागजों में ही सरकारी निवाला पक रहा है ।


नहीं हो रहा हैं हैं निरिक्षण 
उप तहसील फलसूण्ड  क्षेत्र  के भीखोडा़ई, बलाड़, दांतल राजमथाई, स्वामी जी की ढाणी, पन्नासर, राजगढ़ का गांव, सुभाष नगर, मानासर, नेतासर, गोमोणियो कि स्कूल, सोहनपुरा, रमजोणियो कि स्कूल, सेरोणियो कि स्कूल, अभासर, सहित अनेक पंचायतो में स्थित प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, सैकड़ों सरकारी स्कूलो में पकने वाले मिड डे मील प्रोजेक्ट का समय समय पर निरिक्षण नहीं होने के कारण सुदूर गांवो ढाणीयो में ऐसे विधालय भी है जहां आज तक किसी अधिकारी ने निरिक्षण कर मिड डे मील की गुणवत्ता को नहीं परखा।

सैंपल के आदेश हुए हवा
स्कूलो में पकने वाले मिड डे मील की गुणवत्ता को लेकर विभाग द्वारा गत वर्ष सैंपल लेकर गुणवत्ता परखने के आदेश हुए थे बावजूद अभी तक किसी भी स्कूल में पकने वाले भोजन की क्वालिटी की जांच नहीं की जा रही है नही किसी दुकानदार से नही बिल लिया जा रहा मास्टर अपनी मन मर्जी से बिल बनाकर फर्जी तरीके भुगतान उठाया जा रहा है।

घटिया खाद्य सामग्री उपयोग में
छात्रों के लिए मीड डे मील पकाने में प्रयुक्त खाद्य तेल, मिर्च, मसाला, भी मिड डे मील प्रभारीयो द्वारा बाजार से निम्न स्तर के खरीदे जा रहे हैं जिसके चलते छात्रों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है बावजूद जिम्मेदार मूक दर्शक बने हुए है।

अन्न पूर्णा भंडार से नहीं खरीद रहे हैं
नव वर्ष से ही सरकार ने मिड डे मील बनाने के लिए खाद्य सामग्री अन्न पूर्णा भंडार से खरीदने के आदेशों के बावजूद शिक्षा विभाग के अधिकारीयो की अनदेखी के चलते अन्न पूर्णा भंडार से खाद्य सामग्री क्रय नहीं कर बाजार से निम्न स्तर की खाद्य सामग्री काम में ली जा रही है सरकार के आदेशो की अनदेखी की जा रही है यह मामला फलसूण्ड़ क्षेत्र मे अधिकारीयो कि मिली भक्त से हो रहा है।

इनका कहना है " हमारे गांव सांगाबेरा के प्राथमिक विद्यालय के छात्रों को सप्ताह में एक दिन फल वितरण के आदेशों के बावजूद आज तक फल नहीं दिये जा रहे हैं साथ ही मिड डे मील में भी गुणवत्ता नहीं है " हम ने सुगम पर शिकायत की गई जिसकी कोई आज दिन तक कोई कार्रवाई नही हुई है।
-गुलाराम कुम्हार  समाजसेवी गोमोणियो की ढाणी फलसूण्ड। 

इनका कहना हैं
" मिड डे मील पकाने में प्रयुक्त खाद्य सामग्री को अन्न पूर्णा भंडार से खरीदने के सभी नोडल को आदेश दिए गए साथ ही सप्ताह में एक दिन फल वितरण भी करना अनिवार्य है जहां कही भी ऐसा नहीं हो रहा तो निरिक्षण कर कार्यवाही की जाएगी "
-भेरा राम गेंवा बीईईओ पंचायत समिति साकडा़।

कोई टिप्पणी नहीं