Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

प्रताड़ना की बेड़ियों में उलझी चीख 'ए इनर स्क्रीम'

यूट्यूब पर अब तक फिल्म को मिले 30,000 व्यू  @ विजय सैन जयपुर । समाज आज कितना भी आगे निकल जाए लेकिन महिलाओं से जुड़े मुद्दे हमेशा एक श...

यूट्यूब पर अब तक फिल्म को मिले 30,000 व्यू 

@ विजय सैन

जयपुर । समाज आज कितना भी आगे निकल जाए लेकिन महिलाओं से जुड़े मुद्दे हमेशा एक शूल की तरह समाज को चुभते हैं। ऐसे में समाज में कई छोटी-छोटी बातें हैं जिनपर गौर करना जरूरी है। इन्ही मुद्दों को इस महिला दिवस पर अपनी फिल्म की कहानी के तौर पर सबके सामने लाने जा रहे है, महावीर श्रृंगी ।
महिला दिवस को जहन में रखते हुए प्रोड्यूसर और एक्टर महावीर श्रृंगी ने महिलाओं को समर्पित फिल्म 'ए इनर स्क्रीम' का निर्माण किया है। जिसे 9 मार्च, गुरुवार को नारायण सिंह सर्किल स्थित पिंक सिटी प्रेस क्लब में रिलीज किया गया। थ्रिलिंग वेव फिल्म्स के बैनर तले रिलीज होने वाली यह फिल्म महिलाओ से जुड़े सेंसिटिव मुद्दे को उठाती है। श्रृंगी ने फिल्म का लेखन और इसे प्रोड्यूस किया है। वही अनवर अली ने फिल्म को डायरेक्ट किया है। 

फिल्म के बारे में श्रृंगी बताते हैं कि महिलाओं को लेकर हमेशा सशक्तिकरण का मुद्दा उठाया जाता है लेकिन एक चीज़ हमेशा  हम भूल जाते है नारी तब सशक्त होगी जब घर और समाज में उनकी बातों को महत्त्व दिया जाएगा। श्रृंगी ने बताया कि कपड़ों को लेकर इशू बनाना, लड़को के साथ घूमने पर टोकना और यदि कोई ट्रेजडी हो जाए या उनके साथ हुई कोई अनहोनी पर भी उनके कैरेक्टर पर सवाल उठाना, ये सब किस तरह उन्हें सशक्त करना है। फिल्म में मैंने एक अहम् किरदार निभाया है, जो एक ऐसे इंसान का है जो अपने ही दोस्त के घर में रहकर महिलाओं को प्रताड़ित करता है। शक पैदा करता है और अपना उल्लू सीधा करता है। कुछ ऐसा ही सन्देश है मेरी फिल्म है, ये फिल्म उन्ही महिलाओं के अंदर की चीख है।
श्रृंगी काफी समय से महिलाओं की स्तिथि के बारे में लेखन के माध्यम से लोगों को जागरूक करने में लगे हैं। इससे पहले वे चार फिल्मों की स्क्रिप्ट लिख चुके हैं। उनकी फिल्म 'चांद का सूरज' को भी दर्शकों द्वारा काफी सराहा गया था। वे फिल्म राइटर्स एसोसिएशन के सदस्य हैं और इंडियन मोशन प्रोड्यूसर एसोसिएशन से भी जुड़े हैं। फिल्म इनर स्क्रीम को यूट्यूब पर 30,000 से अधिक बार देखा जा चूका हैं।

कोई टिप्पणी नहीं