Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

समदड़ी। क्षेत्र में पानी के लिए भटकते ग्रामीण, प्यास के मारे तड़फते पशु-प्राणी

@ राजेश भाटी बाड़मेर/समदड़ी। निकटवर्ती विरधानियो की ढाणी काकराला में ग्रामीण बूंद बूंद पानी के लिए तरसते है। जलदाय विभाग की ओर से मात...

@ राजेश भाटी

बाड़मेर/समदड़ी। निकटवर्ती विरधानियो की ढाणी काकराला में ग्रामीण बूंद बूंद पानी के लिए तरसते है। जलदाय विभाग की ओर से मात्र 3 दिन में एक बार पानी खोला जाता हैं, जिसके चलते मुख्य ग्राम के चौक के अंदर बने नल पर ग्रामीणों की भारी भीड़ लग जाती है। पानी भरने को लेकर भीड़ में कई बार तो महिलाएं पुरुषों के आमने सामने झगड़े भी हो जाते हैं। लेकिन इस और जलदाय विभाग की और से बिल्कुल ध्यान नहीं दिया जा रहा है।


पानी के लिए भटकते हैं
इस समस्या के चलते ग्रामीणों को पानी के लिए दर दर भटकना पड़ रहा है। वही जलदाय विभाग की ओर से जीएलआर भी कई सालों से सूखी पड़ी है, उसकी ओर अधिकारी जाकर सुध तक नहीं लेते। जिसके चलते जीएलआर जर्जर हालत में हो रही है।
वही मवेशियों की हालत देखे तो वह भी पानी के लिए इधर उधर भटकते हुए पानी के अभाव में दम तोड़ते हुए नजर आ रहे हैं। कई बार ग्रामीणों ने पानी की किल्लत को लेकर शिकायत की लेकिन उस और किसी का कोई प्रकार से प्रभाव नहीं पड़ रहा है। जलदाय विभाग की जगह जगह से लिकेज पाइप लाइन से सैकड़ों लीटर पानी व्यर्थ बहा रहा है, लेकिन मरम्मत करने वाला कोई नही हैं।


जल माफिया भी सक्रिय
कल्याणपुर से लेकर समदड़ी मार्ग के बीच में जल माफिया भी सक्रिय जगह जगह से पाइप लाइनों के जरिए होद बनाकर पानी की चोरी जमकर हो रही है इसमें स्थानीय जलदाय विभाग के कर्मचारी भी शामिल है जिसके चलते जल माफियाओ के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। वही जल माफिया टेक्टरो के जरिए पानी चोरी करके छोटे छोटे कस्बों में ऊँचे दामों पर पानी बेचकर चाँदी कूट रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं