Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

5 लाख की लागत से स्वीकृत मेघवाल समाज छात्रावास के

चार दिवारी का शिलान्यास किया देवल ने @ प्रकाश राठौड़   जालोर/मालवाडा। राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने प्रदेश के अन...

चार दिवारी का शिलान्यास किया देवल ने

@ प्रकाश राठौड़  

जालोर/मालवाडा। राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने प्रदेश के अनुसूचित जाति, जनजाति, दलित एवं पिछडे वर्गो के उत्थान के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाओं को प्रारम्भ कर नई दिशा देने का काम किया है यह बात स्थानीय विधायक नारायणसिंह देवल ने विधायक मद से 5 लाख की लागत से स्वीकृत मेघवाल समाज छात्रावास की चार दिवारी के शिलान्यास कार्यक्रम में बुधवार को जनसभा को संबोधित करते हुए कही। 19 गांव परगना मेघवाल समाज छात्रावास भवन की चार दिवारी कार्यक्रम का शिलान्यास विधायक देवल के मुख्य आतिथ्य, ठा. अमरसिंह देवल की अध्यक्षता में विधिवत रूप से सम्पन्न हुआ।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक देवल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से गरीबों को उत्थान किया जा रहा है, देवल ने कहा कि हाल ही में हुई बजट घोषणाओं में क्षेत्र को कई सौगाते दी है, लगभग 22 किमी सडकों के निर्माण हेतु 16 करोड 65 लाख रूपये की स्वीकृति जारी की गई है तथा क्षेत्र में प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर गौरव पथों का निर्माण भी किया जा रहा है।
विधायक देवल ने जल्द ही मालवाडा कस्बे को नर्मदा का मीठा पानी भी उपलब्ध करवाया जायेगा तथा अनुसूचित जाति, जनजाति एवं गरीब व पिछडों वर्ग के विकास हेतु सदैव तत्पर रहने का आष्वासन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे अमरसिंह देवल ने कहा कि मैं मेघवाल समाज के विकास के लिए सदैव तत्पर हूॅ एवं रहूॅगा, इन्होंने मेघवाल समाज छात्रावास की चार दिवारी हेतु ग्राम पंचायत से 3 लाख रूपये देने की भी घोषणा करते हुए सरकार की योजनाओं के प्रचार-प्रसार का आहवान किया। कार्यक्रम के अन्त में शंकरलाल भाटीया ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन मुकेश जोशी ने किया।
इस अवसर पर किसान मोर्चा के प्रताप पुरोहित, कुडा सरपंच प्रकाश वाणिका, भाजयुमो मंडल महामंत्री प्रकाश मेघवाल, छगनलाल रोडा, शंकरलाल पंसेरी, ऊकाराम कागमाला, चेलाराम गुलशन, दोलाराम चाण्डपुरा, पटवारी जबरदान, भगाराम दौलपुरा, सोनाराम खाबडा, वेलाराम पारंगी, रमेश धनपुरा, चौथाराम कोटडा, नेथीराम वाडा, नेथीराम सोलंकी डेरडी, मानाराम डाडोकी, लीलाराम आखराड, लक्ष्मण गुलशन, लवजीराम धुलिया, नागजीराम सुरजवाडा, सोमाराम गुलशन, लच्छाराम खाबडा, कालाराम चरपटीया, छगनलाल डाबी, मालाराम परमार, मानाराम गुलशन, कान्तिलाल वाडा, मफाराम डाबी, छतराराम भाटीया, कालुराम परमार, रावताराम बढीया, चेनाराम वाडा, तगाराम पुरण, रमेष धनपुरा, ललित बौद्ध, शान्तिलाल गोयल, हंसाराम बामडीया, पोपटजी, भरत वाघेला, गणपत वाघेला, चौथाराम चाण्डपुरा, भंवरपुरी गोमसेवक, लक्ष्मण सैन, मोहनलाल बढीया, नरसीराम डाबी सहित ग्रामीणजन उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं