Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

चोहटन। विरात्रा पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव आयोजित हुआ

@ विपिन भंसाली बाड़मेर/चोहटन। स्थानीय विरात्रा पब्लिक स्कूल उच्च माध्यमिक विद्यालय द्वारा ग्राम पंचायत के प्रांगण में वार्षिकोत्सव का ...

@ विपिन भंसाली

बाड़मेर/चोहटन। स्थानीय विरात्रा पब्लिक स्कूल उच्च माध्यमिक विद्यालय द्वारा ग्राम पंचायत के प्रांगण में वार्षिकोत्सव का आयोजन किया गया जिसमे अनेक सांस्कृतिक, देशभक्ति पूर्ण और रोचक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों दी गई। 


चौहटन विधायक तरूणराय कागा के मुख्य आतिथ्य एवम् उपखंड अधिकारी जितेन्द्रसिंह नरूका की अध्यक्षता में दीप प्रज्ज्वलन कर विधिवत् समारोह का आगाज किया गया। मयूर नोबल अकैडमी बाड़मेर के निदेशक रेवन्तसिंह राणासर, जोगेन्द्रसिंह बाड़मेर तथा स्वरूपसिंह मारुड़ी, चोहटन उपसरपंच मोहनलाल सोनी, अतिरिक्त ब्लाक प्रार0 शिक्षा अधिकारी युवराज कागा और पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रघुवीरसिंह तामलोर बतौर विशिष्ठ अतिथि समारोह में उपस्थित रहे।
कार्यक्रम संचालक गौतम भंसाली ने बताया कि सरस्वती वंदना के बाद संस्थान द्वारा अतिथियों का स्वागत बहुमान किया गया। विरात्रा शिक्षण संस्थान के अध्यक्ष भगवानदास खत्री ने समस्त आगंतुकों का स्वागत  करते हुए पूरे समारोह को देखने और बच्चों के मनोबल को बढ़ाने की अपील की। 
संस्थान के सचिव मोहनसिंह देदूसर ने संस्थान की वार्षिक उपलब्धियों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया।
विशिष्ठ अतिथि रेवंतसिंह राणासर ने  बाड़मेर जिले की अनेक प्रतिभाओं का उदाहरण देते हुए लक्ष्य निर्धारित कर के अध्ययन करने का आह्वान किया। उन्होंने बताया की अब बाड़मेर जिला देश की प्रत्येक प्रतियोगी परीक्षा में अपना नाम दर्ज करने का रिकॉर्ड बना रहा है जो हमारे लिए गौरव की बात है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक तरुणराय कागा ने चौहटन क्षेत्र के विकास के लिए किये जा रहे समस्त उपलब्धियों और प्रयासो का विस्तृत ब्यौरा देते हुए कहा कि इन सबका एक ही आधार शिक्षा है जिसके द्वारा हम अपना अपने परिवार समाज और राष्ट्र का सर्वांगीण विकास कर सकते है। उन्होंने चोहटन की प्रतिभाओं को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाते हुए अपनी शुभकामनाएं दी और घोषणा की क़ि इस सत्र में प्रथम आने वाली बालिका को हवाई यात्रा से दिल्ली की सैर करवाई जाएगी। 
उपखंड अधिकारी  चौहटन नरुका ने माता-पिता, अभिभावकों और विद्यालय के शिक्षकों को प्रतिस्पर्धा के युग के अनुसार बच्चों को तैयार करने और तालीम देने की अपील करते हुए कहा की बाड़मेर की बदलती फिजां के पीछे निश्चित रूप से शिक्षा ही मूल कारण रहा है।

वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में बालक बालिकाओं द्वारा अनेक लोकगीत, नृत्य, कविता, हास्य एकांकी, गुजराती डांस, घूमर इत्यादि ने खचाखच भरे पंचायत के प्रांगण में समां बांध दी। 
अनेक भामाशाहों द्वारा संस्थान के विकास हेतु बहुत सारी घोषणाओं के साथ पुरस्कारों की झड़ी लगा दी। प्रतिभावान बालक-बालिकाओं को सम्मानित किया गया। संस्थान द्वारा मेहमानों को स्मृति चिन्ह दिए गए और कल्याण मंत्र के साथ वार्षिकोत्सव समारोह संपन्न हुआ।

कार्यक्रम का बेहतरीन  संचालन गौतम भंसाली व्याख्याता द्वारा किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं