Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

खरतरगच्छ की राजधानी में चातुर्मास तय होने से पुरे देश में खुशी की लहर

खरतरगच्छ की राजधानी में होगा आचार्य जिनपीयूषसागरसूरीजी का 2017 का चातर्मास  बाड़मेर। जैन समुदाय के खरतरगच्छ सम्प्रदाय की राजधानी बाड़मे...

खरतरगच्छ की राजधानी में होगा आचार्य जिनपीयूषसागरसूरीजी का 2017 का चातर्मास 
बाड़मेर। जैन समुदाय के खरतरगच्छ सम्प्रदाय की राजधानी बाड़मेर नगर में आगामी 2017 के चातुर्मास हेतु शुक्रवार को खरतरगच्छाचार्य जिनपीयूषसागर सूरीश्वर म.सा. की सकल संघ की उपस्थिति में जय बुलवाई गई। 

 बाड़मेर नगर में आगामी वर्षावास हेतु आचार्य भगवंत से विनंती करने हेतु सकैड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं का जत्था निम्बड़ी माताजी मन्दिर पहुंचा जहां पर आचार्य भगवंत को अपनी धवलसेना के साथ बाड़मेर नगर में 2017 का चातुर्मास करने की आग्रहभरी विनंती की जिस पर आचार्य भगवंत ने संघ की अत्यन्त आग्रहभरी विनंती को मध्यनजर रखते हुए आगामी चातुर्मास बाड़मेर नगर में जिनकांतिसागरसूरि आराधना भवन में करने की अनुमति प्रदान की। आचार्य भगवंत द्वारा चातुर्मास की अनुमति प्रदान करते ही उपस्थिति जनसमुदाय में हर्षोल्लास का वातावरण छा गया व वातावरण जयकारों से गुंजायमान हो गया। आचार्य भगवंत के बाड़़मेर चातुुर्मास की अनुमति के समाचार सोश्यल मिडिया के माध्यम से पुरे देश में फैलने पर जगह-जगह से बधाई संदेश प्राप्त हो रहे है। ज्ञात रहे है कि बाड़मेर नगर जैन समाज के खरतरगच्छ सम्प्रदाय की राजधानी है तथा लगभग 17 वर्ष के बाद खरतरगच्छ समुदाय के आचार्य भगवंत का बाड़मेर नगर में चातुर्मास की स्वीकृति प्राप्त होने से पुरे देश में हर्ष की लहर छाई हुई है। कई अर्सों से पुरे देश की बाड़मेर नगर के चातुर्मास हेतु निगाह अटकी हुई थी जिसको आज साकार रूप मिला। साथ ही साथ आगामी चैत्री ओलीजी की आराधना करवाने हेतु लाभार्थी बाबूलाल टीलचंद छाजेड़ परिवार द्वारा विनंती की गई जिसकी भी स्वीकृति प्रदान की गई। 
इस अवसर पर नाकोड़ा ट्रस्ट एवं जैन श्रीसंघ व खरतरगच्छ चातुर्मास समित बाड़मेर के पूर्व अध्यक्ष नैनमल भंसाली, नाकोड़ा ट्रस्ट के पूर्व अध्यक्ष जेठमल जैन, चातुर्मास समिति के पूर्व अध्यक्ष मांगीलाल मालू, पीरचंद धारीवाल, मोहनलाल मेहता, माणकमल बोथरा, रतनलाल संखलेचा, गौतमचंद डूंगरवाल, मनसुख पारख, बाबूलाल छाजेड़, मगराज संखलेचा, कैलाश हालावाला, मांगीलाल बोथरा, भूरचंद गोलेच्छा, गौतमचंद लूणिया (बोस), सुरेश धारीवाल, मोहनलाल बोथरा, पारसमल सेठिया, प्रकाशचंद संखलेचा, डा. रणजीतमल मेहता, केवलचंद भंसाली, सोहनलाल संखलेचा(अरटी), जेठमल छाजेड़, ओमप्रकाश बोथरा, पुखराज लूणिया, पारसमल गोलेच्छा, पुरूषोतम मालू, जगदीश बोथरा, सुनिल छाजेड़, दीपक छाजेड़, बाबूलाल छाजेड़, मेवाराम मालू, विक्रम बोथरा सहित आदिनाथ ट्रस्ट मंडल खरतरगच्छ पेढ़ी(रजि.), खरतरगच्छ संघ चातुर्मास समिति बाड़मेर के पदाधिकारीगण, सदस्यगण एवं विभिन्न धड़ों के मौजीज श्रावकगण उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं