Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

महाविद्यालय की छात्राओं की भूमिका सराहनीयःईरम

बाड़मेर,01 अप्रैल। नंदघरों में महिला एवं बाल विकास योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन में महाविद्यालय की छात्राओं की पहल सराहनीय है। करीब ...

बाड़मेर,01 अप्रैल। नंदघरों में महिला एवं बाल विकास योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन में महाविद्यालय की छात्राओं की पहल सराहनीय है। करीब एक माह की अवधि के दौरान इन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित करने का कार्य किया है। इस तरह के कार्यक्रम आगामी समय में भी नियमित रूप से जारी रखे जाने चाहिए। वेदांता की ऐशोसिएट आफिसर सुश्री ईरम इकबाल ने सरूपोणियो मालियो की ढाणी स्थित नंदघर में यूथ वालेंटियर प्रोग्राम के समापन समारोह के अवसर पर कही। इस कार्यक्रम का आयोजन वेदांता एवं धारा संस्थान के सहयोग से किया गया।
इस अवसर पर सुश्री ईरम इकबाल ने कहा कि इस तरह के आयोजनों से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन मिलने के साथ सरकारी योजनाओं की विस्तार से जानकारी मिलती है। उन्होंने कहा कि अब सरकार की ओर से नंदघरों को आंगनबाड़ी पाठशाला के रूप में तब्दील किया गया है। इसमें अब प्रारंभिक बाल्वावस्था शिक्षा प्रदान की जा रही है। उन्होंने इस तरह के आयोजन के लिए आयोजक संस्थाओं का आभार जताया। इस दौरान कलस्टर कोर्डिनेटर बाबूलाल शर्मा ने यूथ वालेंटियर प्रोग्राम के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसके तहत बायतू महाविद्यालय की छात्राओं ने विभिन्न नंदघरों में पहुंचकर 3 से 6 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं को मनोवैज्ञानिक तरीकों, खेल-खेल में शिक्षण, संस्कारों के अलावा उत्तम स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी। इस दौरान पोषण सामग्री के वितरण के अलावा बाल विकास की योजनाओं के बारे में बताया गया। इसी तरह बच्चों के अभिभावकों से भी काउसंलिंग करते हुए उनको नियमित रूप से आंगनबाड़ी केन्द्र भेजने के लिए समझाइश की गई। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय की दस छात्राओं ने करीब एक माह तक 25 नंदघरों में पहुंचकर बाल विकास योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
धारा संस्थान के निदेशक महेश पनपालिया ने छात्राओं के बेहतरीन कार्य की सराहना करते हुए कहा कि उनकी ओर से भविष्य में भी इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने का प्रयास किया जाएगा। समारोह के दौरान वेदांता की नंदघर प्रोजेक्ट हेड रितु झिंगन की ओर से महाविद्यालय की छात्राओं को प्रशस्ति पत्र एवं हाथ घड़ी देकर बहुमान किया गया। इस दौरान वगताराम, मांगूसिंह, ओमप्रकाश,राजगिरी कालेज आफ सोशियल साइंस कलमासेरी कोच्ची केरला के इंटर्नस निखिता, आंसी, विंसी, एलिजाबेथ, जितिन जान, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हेमलता, दूर्गा, ममता एवं केयर टेकर रेवताराम मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं