Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

अुसर वध के साथ हुआ नवरात्रि के समापन, उमड़ी हजारों लोगों की भीड़, देर रात तक चला अयोजन

Reporter-- Liyakat Ali सिरोही 30 सितम्बर। सिरोही में पहली बार लगा चैतन्य देवियों की झांकी का समापन हो गया। यह समापन राम रावण संवाद के बाद...

Reporter-- Liyakat Ali
सिरोही 30 सितम्बर। सिरोही में पहली बार लगा चैतन्य देवियों की झांकी का समापन हो गया। यह समापन राम रावण संवाद के बाद रावण के वध के साथ हुआ।
इसके साथ ही चैतन्य देवियों की झांकी देखने के लिए अंतिम दिन हजारों लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा। देर रात तक लोगों का ताता लगा रहा है। वहीं कार्यक्रम के समापन पर शहर के कई गणमान्य लोग मौजूद रहे। हर किसी को देवी बनी बहनों को देखने के लिए लोग लालायित थे। हर किसी ने सेल्फी लेकर कलाकारों का बहुमान किया। 
खंडेलवाल छात्रावास में ब्रह्माकुमारीज की ओर से लगायी गयी झांकी में हर कोई मंत्रमुग्ध हो गया। कही राम रावण का युद्ध तो कही देवी देवताओं का दरबार, मॉं दुर्गा से प्रसादी लेने की ललक और फिर चल रहा गराब के धुन मे ंदेर रात सजे देवी देवताओं ने ने गरबा राशि खेली। थी्र शो, आडियो विडियो कार्यक्रम, नशामुक्ति पंडाल, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं, पानी बचाओ, स्वच्छ भारत मिशन जैसे पंडालों में भी लोगों की भारी भीड़ लगी रही। चल रहे नव दिवसीय नवरात्री मेले के समापन्न अवसर पर कार्यक्रम आयोजन किया गया। 
उपस्थित अतिथियों ने कहा कि नवरात्रि का पर्व असुरों पर विजय प्राप्त करने का पर्व है। इसलिए अज्ञान निदा्र से उठकर आसुरी प्रवृत्तियों को समाप्त करें। सिरोही मेले में लगे इस चैतन्य देवियों की झांकी लोगों के आकर्षण का केन्द्र रही। पूरे नौ दिनों तक चले इस प्रोग्राम में हजारों लोागें का उमड़ता रहा।  वहीं जादू के शो ने भी लोगों को सकारात्मक संदेश दे गया। 
इस अवसर पर कार्यक्रम के दौरान ब्रह्माकुमारी संस्थान के वरिष्ठ राजयोगी बी.के. आत्मप्रकाश, शान्तिवन के अभियंता बी.के. भरत, ब्रह्माकुमारीज सिरोही की प्रभारी बीके अरूणा, रामुख मिश्रा, अनूप सिंह, बीके देव, बीके धीरज, बीके मोहन, बीके कृष्णा समेत कई लोग उपस्थित थे।


कोई टिप्पणी नहीं