Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

मालाणी एक्सप्रेस यथावत रहेगी, वहीं मंडोर के साथ बाडमेर से मुंबई के लिए भी शुरू होगी रेलसेवा : केंद्रीय मंत्री चौधरी

मालाणी एक्सप्रेस यथावत रहेगी, वहीं मंडोर के साथ बाडमेर से मुंबई के लिए भी शुरू होगी रेलसेवा : केंद्रीय मंत्री चौधरी - कें...

मालाणी एक्सप्रेस यथावत रहेगी, वहीं मंडोर के साथ बाडमेर से मुंबई के लिए भी शुरू होगी रेलसेवा : केंद्रीय मंत्री चौधरी

- केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने की रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी से मुलाकात
बाडमेर। थार वासियों की लंबे समय से चली आ रही मांग बाड़मेर से मुम्बई के लिए नई रेल सेवा शुरू कराने के लिए बुधवार को स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश चन्नबसप्पा अंगडी से मुलाकात की। इस दौरान केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने रेल राज्य मंत्री से बाड़मेर से दिल्ली के बीच चल रही मालाणी एक्सप्रेस को यथावत रखने को लेकर मांगपत्र सौंपा।

इस दौरान केंद्रीय राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने रेल राज्य मंत्री को बताया कि बाडमेर में रिफायनरी सहित विभिन्न पावर प्लांट तेल एवं गैस निकलने के बाद यहां देश - दुनिया के लोगों का आवागमन बढा है।


वहीं यहां के लोगों का भी व्यापार एवं अन्य कामों के सिलसिले में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली एवं मुंबई लगातार आना - जाना लगा रहता है। इसको लेकर बाडमेर से मुंबई के लिए यहां की जनता की ओर से लंबे समय से ट्रेन की मांग की जा रही है। उन्होंने रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी से बाडमेर से मुंबई के लिए शीघ्र रेलसेवा शुरू करके राहत देने की मांग की। केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने रेलमंत्री अंगदी के सामने प्रमुखता से अपनी मांग रखी। जिन्होंने इस दिशा में सार्थक पहल का आश्वासन दिया। इस दौरान जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा भी मौजूद रहे।

केंद्रीय मंत्री ने की मालाणी एक्सप्रेस को यथावत रखने की मांग 
पिछले दिनों रेल मंत्रालय की ओर से बाडमेर से दिल्ली के बीच चलने वाली मालाणी एक्सप्रेस को बाडमेर से बंद करके जैसलमेर शिफ्ट करने एवं मंडोर को जोधपुर से बढाकर बाडमेर तक करने की घोषणा की गई। इसके बाद बाडमेर की जनता की ओर से मालाणी को यथावत रखने की पुरजोर मांग की गई।

इस पर स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने डीआरएम से वार्ता की और रेलमंत्री से मुलाकात करके स्थायी समाधान का आश्वासन दिया। इसको लेकर उनकी रेलमंत्री से हुई मुलाकात में उन्होंने मालाणी एक्सप्रेस को यथावत बनाए रखने, मंडोर को भी बाडमेर तक बढाने की घोषणा को जारी रखने एवं बाडमेर से मुंबई के लिए रेलसेवा शुरू करने को लेकर वार्ता की एवं मांगपत्र प्रेषित किया।

कोई टिप्पणी नहीं