Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

सुसंस्कारित शिक्षा ही जीवन का आधार : पालीवाल

सुसंस्कारित शिक्षा ही जीवन का आधार : पालीवाल   बाड़मेर। सुसंस्कारित शिक्षा ही जीवन का आधार है। विद्या भारती विद्यालय आदर्श विद्या मं...

सुसंस्कारित शिक्षा ही जीवन का आधार : पालीवाल 
बाड़मेर। सुसंस्कारित शिक्षा ही जीवन का आधार है। विद्या भारती विद्यालय आदर्श विद्या मंदिर माध्यमिक हरसाणी के अभिभावक सम्मेलन में मुख्य वक्ता पूनमचंद पालीवाल द्वारा व्यक्त किए गए। उन्होंने बताया कि बालक के सर्वांगीण विकास के लिए आचार्यो के साथ अभिभावक की भूमिका भी अहम है। इस आधुनिक युग में भारतीय इतिहास के गौरवपूर्ण तथ्यों की जानकारी बालकों के लिए बहुत जरूरी है, साथ ही कृष्णा और अर्जुन की कहानी बताते हुए, कहा कि विद्यार्थियों पर कर्मों का बहुत अच्छा प्रभाव रहता है। कार्यक्रम संचालन पप्पू सिंह भाटी ने बताया कि कार्यक्रम में मुख्य अतिथि चूतरसिंह भाटी सेवानिवृत्त नायब तहसीलदार, अध्यक्ष महन्त दिनेश भारती मठाधीश हरसाणी।
कार्यक्रम में अभिभावकों द्वारा विद्या मंदिर के उपलक्ष में सुझाव रखे गए। प्रधानाचार्य जेतमालसिंह सोढा द्वारा विद्यालय का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने अभिभावक से बालक के विकास के लिए तथा उसकी नींव मजबूत करने के लिए, अभिभावकों को सक्रिय रहने के लिए मायड़ भाषा में आग्रह किया। साथ ही उन्होंने एक प्राचीन घटना द्वारा अपने बालकों के प्रति सजग व सक्रिय रहने हेतु सचेत किया। अंत में विद्यालय के व्यवस्थापक मांगीलाल द्वारा अभिभावक व अतिथियों का आभार व्यक्त किया गया।
इस अवसर पर कंवराजसिंह गोरडिया, रूप सिंह भाटी, मूलचंद, नीम्ब सिंह, कुम्प सिंह, मेहताब सिंह, स्वरूप सिंह, महेंद्र सिंह भाटी, समाजसेवी चेतन सेन, बाबूलाल, अलसाराम, किसनाराम, सरदार सिंह, हंसराज जैन, मोहन सिंह, ईश्वर सिंह, चेतन सिंह, स्वरूप सिंह, सांगसिह राजपुरोहित, मनफूलसिंह, डूंगर सिंह, शक्ति सिंह सोढा, मोकम सिंह मगरा, तगाराम खारची सहित बड़ी संख्या में अभिभावक उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं