Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

टिड्डी प्रभावित जिलों के कलक्टर्स के साथ मुख्यमंत्री ने की वीडियो काॅन्फ्रेंस।

टिड्डी प्रभावित जिलों के कलक्टर्स के साथ मुख्यमंत्री ने की वीडियो काॅन्फ्रेंस। प्रभावित किसानों को तीन दिन में शुरू करें मुआवजा...

टिड्डी प्रभावित जिलों के कलक्टर्स के साथ मुख्यमंत्री ने की वीडियो काॅन्फ्रेंस।

प्रभावित किसानों को तीन दिन में शुरू करें मुआवजा वितरण - मुख्यमंत्री 
बाड़मेर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने टिड्डी प्रभावित जिलों में की जा रही विशेष गिरदावरी की रिपोर्ट शीघ्र भिजवाने और तीन दिन में प्रभावित किसानों को मुआवजा राशि का वितरण शुरू करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कलक्टर टिड्डी आक्रमण पर लगातार प्रभावी निगरानी रखें और किसानों से सम्पर्क रखकर नुकसान होने की स्थिति में जल्द से जल्द उन्हें मुआवजा दिलवाएं।
गहलोत शनिवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में टिड्डी प्रभावित जिलों के कलक्टर्स के साथ वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार टिड्डी प्रभावित क्षेत्रों में किसानों को हुए नुकसान को लेकर गंभीर है। हमारा प्रयास है कि किसानों को तत्काल राहत दी जाए।
मुख्यमंत्री ने जैसलमेर, बाड़मेर, जालोर, जोधपुर, बीकानेर, पाली, श्रीगंगानगर एवं हनुमानगढ़ के जिला कलक्टरों से उनके जिलों में टिड्डी नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों, वर्तमान स्थिति, गिरदावरी रिपोर्ट और फसलों के खराबे के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने कहा कि किसानों को शीघ्र राहत देने के लिए बिना किसी देरी के गिरदावरी का काम पूरा करें और उसकी रिपोर्ट जल्द से जल्द आपदा प्रबन्धन एवं सहायता विभाग को भिजवाएं, जिससे मुआवजा राशि तुरन्त जारी हो सके। 
उल्लेखनीय है कि विगत दिनों मुख्यमंत्री ने जालोर, बाड़मेर एवं जैसलमेर जिलों का दौरा कर टिड्डी प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया था। साथ ही किसानों से मुलाकात कर उन्हें जल्द से जल्द सहायता का आश्वासन दिया था। 
बैठक में अधिकारियों ने बताया कि आपदा प्रबन्धन एवं सहायता विभाग ने प्रभावित जिलों में टिड्डी से हुए नुकसान को देखते हुए विशेष गिरदावरी करवाने के आदेश पहले ही जारी कर दिए हैं। ज्यादातर क्षेत्रों में यह कार्य लगभग पूरा हो चुका है और शेष कार्य जल्द पूरा कर लिया जाएगा। गिरदावरी से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार किसानों को तुरन्त सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। साथ ही फसल बीमा योजना में भी प्रभावित किसानों को सहायता दी जाएगी। 
बैठक में बताया गया कि राज्य सरकार ने टिड्डी नियंत्रण के लिए स्थानीय किसानों के साथ मिलकर लगातार प्रभावी कदम उठाए हैं, जिससे टिड्डी प्रभावित जिलों में अब स्थिति नियंत्रण में है। अब तक 3 लाख 52 हजार हैक्टेयर से अधिक क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण किया गया है। टिड्डी नियंत्रण के प्रयासों को और अधिक कारगर बनाने के लिए प्रभावित जिलों के कलक्टरों को 450 ट्रैक्टर - माउन्टेड स्प्रेयर किराए पर लेने तथा 10 हजार लीटर कीटनाशी रसायन का उपयोग करने की स्वीकृति भी प्रदान की गई है। 
वीडियो काॅन्फ्रेंस के दौरान राजस्व मंत्री श्री हरीश चौधरी बाड़मेर में मौजूद थे और मुख्यमंत्री कार्यालय में कृषि मंत्री लालचन्द कटारिया, मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्य, प्रमुख शासन सचिव कृषि नरेशपाल गंगवार, प्रमुख शासन सचिव राजस्व आलोक गुप्ता, सचिव आपदा प्रबन्धन एवं सहायता सिद्धार्थ महाजन तथा कृषि आयुक्त डाॅ. ओमप्रकाश सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं