Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर, गौड़ी पार्श्वनाथनाथ मन्दिर में द्वार उदघाटन के साथ महोत्सव का समापन।

बाड़मेर, गौड़ी पार्श्वनाथनाथ मन्दिर में द्वार उदघाटन के साथ महोत्सव का समापन। बाड़मेर। स्थानीय लंगेरा रोड़ स्थित श्री जैन श्वेताम्बर...

बाड़मेर, गौड़ी पार्श्वनाथनाथ मन्दिर में द्वार उदघाटन के साथ महोत्सव का समापन।

बाड़मेर। स्थानीय लंगेरा रोड़ स्थित श्री जैन श्वेताम्बर हालावाला जैन श्री संघ द्वारा नवनिर्मित श्री गौड़ी पार्श्वनाथ मन्दिर की प्रतिष्ठा के बाद प्रथम बार द्वारोद्घाटन गुरूवार को प्रातः शुभ ब्रहम मुर्हुत में खरतरगच्छाधिपति आचार्य भगवन्त जिन मणिप्रभ सूरीश्व की पावन निश्रा में मंत्रोचार के साथ किया गया। उसके पश्चात गौड़ी पार्श्वनाथ भगवान के दर्शन-वन्दन कर पक्षाल कर केशर पूजा व आरती की गई, इसके बाद सतरभेदी पूजा व दादा गुरूदेव की बड़ी पूजा का आयोजन किया गया।

बाड़मेर-गडरारोड़ पर बाड़मेर नगर से 2 किलोमीटर दुरी पर स्थित श्री गौड़ी पार्श्वनाथ मन्दिर में गुरूवार को प्रभु दर्शन, आंगी, रोशनी, प्रसादी व् आरती के नवकारसियों के साथ महोत्सव का भव्यता के साथ समापन हुआ।

प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के संयोजक रतनलाल बोहरा हालावाला ने बताया कि महोत्सव के अन्तिम दिन आयोजित धर्मसभा में गच्छाधिपति आचार्य भगवन्त जिन मणिप्रभ सूरीश्व ने अपने मांगलिक प्रवचन में उपस्थित श्रद्धालुओं को ऐतिहासिक एवं सफल आयोजन के लिए सभी को बधाईयां दी। गच्छाधिपति ने कहा कि श्री गौड़ी पार्श्वनाथ प्रभु व दादा गुरूदेव की असीम कृपा से पुरे सकल हाला संघ व पुरे खरतरगच्छ का कल्याण और उद्वार होगा। गौड़ी पार्श्वनाथ भगवान के रोज दर्शन से ही जीवन का कल्याण होगा।

द्वारोघाटन के लाभार्थी परिवार का निकला वरघोड़ा, हुआ भव्य स्वागत- 
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के अध्यक्ष रविन्द्र जैन रतनपुरा ने बताया कि महोत्सव के चौथे दिन गुरूवार को प्रातः शुभ ब्रहम मुहूर्त में द्वारोघाटन के लाभार्थी डामरचन्द, चतुर्भुज, शान्तिलाल, नीरजकुमार छाजेड़ परिवार हरसाणी-मालेंगांव वालो द्वारा द्वारोद्घाटन के लाभार्थी के सदस्यों का हाथीपर सवार होकर, गाजे-बाजे एवं बैंड-बाजे के साथ सकल संघ के साथ में भव्य वरघोड़ा निकाला गया। वरघोड़े में खरतरगच्छाधिपति आचार्य भगवन्त जिनमणिप्रभसूरीश्व सहित हालावाला जैन श्री संघ एवं महोत्सव समिति के सदस्यों ने शिरकत की। जहां सुबह नास्ते व दोपहर की नवकारसी के लाभार्थी परिवार के सदस्यों व् प्रतिष्ठा में लाभार्थी परिवारो का प्रतिष्ठा महोत्सव समिति की ओर से तिलक, माला, साफा, श्रीफल एवं स्मृति-चिन्ह से बहुमान किया गया।

हालावाला जैन श्री संघ एवं महोत्सव समिति ने जताया आभार - 
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के कैलाश हालावाला ने बताया कि प्रतिष्ठा महोत्सव के अन्तिम दिन गुरूवार को अभिनन्दन कक्ष में आयेाजित सभा में महोत्सव समिति के मुख्य संयोजक रतनलाल बोहरा हालावाला एवं अध्यक्ष रविन्द्र जैन रतनपुरा ने महोत्सव में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष सहयोग, योगदान देने वाले सभी सज्जनों, संस्थाओं एवं विभागों का धन्यवाद एवं आभार ज्ञापित किया और उनके द्वारा दिये गये सहयोग की भूरि-भूरि अनुमोदना की।  

गच्छाधिपति का हुआ कुशल वाटिका की और विहार-
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के पारसमल बोहरा हालावाला ने बताया कि खरतरगच्छाधिपति आचार्य मणिप्रभसूरिश्वर के साथ उनके शिष्य मुनि मयंकप्रभसागर, मुनि मनितप्रभसागर, मुनि मेहुलप्रभसागर, मुनि मयुखप्रभसागर, मुनि महितप्रभसागर व आज्ञानुवर्ती साध्वी कल्पलताश्री, हेमरत्नाश्री आदि साध्वी मण्डल का 26 फरवरी को श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जिनालय की प्रतिष्ठा व 27 फरवरी को द्वारोदघाटन के बाद 8 बजे गुरूदेव का विहार कुशल वाटिका की और हुआ जहा कुछ समय विश्राम के बाद आगे चौहटन की और विहार होगा जहां पर 4 मार्च को होने वाली मुमुक्षु नेहा बोथरा, रेखा सेठिया की दीक्षा प्रसंगे निश्रा प्रदान करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं