Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर जिला कलेक्टर का जिले की आवाम के नाम संदेश जरूर पढ़ें।

बाड़मेर जिला कलेक्टर का जिले की आवाम के नाम संदेश जरूर पढ़ें। प्रिय बाड़मेरवासियों मौजूदा समय में पूरा देश कोरोना महामारी से जुझ र...

बाड़मेर जिला कलेक्टर का जिले की आवाम के नाम संदेश जरूर पढ़ें।

प्रिय बाड़मेरवासियों मौजूदा समय में पूरा देश कोरोना महामारी से जुझ रहा है। इससे निपटने के लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार के निर्देशानुसार एहतियात के तौर पर कई कदम उठाए गए है। प्रदेश में आगामी 14 अप्रैल तक लाॅक डाउन घोषित गया है। विपदा की इस घड़ी में मैंने कल बाड़मेर जिला कलक्टर का पदभार संभाला है।
बाड़मेर जिला किसी न किसी रूप में विपदा से रूबरू होता आया है। भारत-पाक के मध्य 1965 का युद्ध हो अथवा 1971 का। बाड़मेर के ग्रामीणों ने अपनी जान की परवाह नहीं करते हुए ऊंटों पर आगे चलते हुए सैनिकों को रास्ता दिखाया। इसकी बदौलत हम पाकिस्तान पर विजय हासिल कर सके। बाड़मेरवासियों के लिए पेयजल संकट एवं हर तीसरे साल अकाल की स्थिति आम बात रही है। इसके उपरांत भी आप विकट परिस्थितियों में जीने के साथ एवं एक-दूसरे की मदद करने के लिए सदैव तत्पर रहे है। मैने सुना है कि बाड़मेर के बाशिंदों ने छप्पनियां काल जैसी त्रासदी का बखूबी मुकाबला किया था। प्रदेश के साथ बाड़मेर जिले में कोरोना से निपटने के लिए अभी लाॅक डाउन चल रहा है। ऐसे में आपसे विशेष अनुरोध है कि देश एवं समाजहित में इस अवधि के दौरान घर पर ही रहें। भीड़ भाड़ वाले स्थानों एवं बाजार नहीं जाएं।
लाॅक डाउन अवधि के दौरान कोई भी जरूरतमंद भूखा नहीं रहें। मूक जानवरों को चारा-पानी मिले। इसके अलावा पक्षियों के लिए दाने-पानी की सुचारू व्यवस्था हो। इसके लिए माननीय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आमजन से अपेक्षित सहयोग करने की अपील की है। मेरा प्रवासी एवं जिले के भामाशाहों एवं समाजसेवियों से निवेदन है कि इसमें आप यथासंभव सहयोग करें। माननीय जन प्रतिनिधिगण भी इसमें अपनी भागीदारी निभाएं।
कोरोना से बचाव के लिए राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिला एवं पुलिस प्रशासन की ओर से व्यापक प्रबंध किए गए है। आपसे बस इतना अनुरोध है कि आप घर में रहें। समय-समय पर साबून से हाथ धोते रहे। अगर कोई संदिग्ध व्यक्ति हो अथवा अन्य किसी प्रकार की समस्या हो, तो आप जिला स्तर पर स्थापित किए गए नियंत्रण कक्ष 02982-222226 पर सूचित कर सकते है। पिछले कुछ दिनों जो भी व्यक्ति दूसरे प्रदेशों एवं जिलों से बाड़मेर आए है वे कम से कम 14 दिन तक सेनेटराइज रहें। ताकि किसी तरह के संक्रमण की आशंका नहीं रहे।
मुझे आशा ही नहीं, वरन पूरा विश्वास है कि हम मिलकर समन्वित प्रयास के जरिए कोरोना को मात देने में सफल होंगे। जयहिन्द। विश्राम मीणा, जिला कलक्टर, बाड़मेर।

कोई टिप्पणी नहीं