Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

कोरोना से बचाव के लिए मनरेगा कार्य स्थलों पर श्रमिकों को दी गई जानकारी।

कोरोना से बचाव के लिए मनरेगा कार्य स्थलों पर श्रमिकों को दी गई जानकारी। - कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मनरेगा कार्यस्थल पर आवश्यक ...

कोरोना से बचाव के लिए मनरेगा कार्य स्थलों पर श्रमिकों को दी गई जानकारी।

- कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मनरेगा कार्यस्थल पर आवश्यक व्यवस्थाएं करने के निर्देश।
बाड़मेर। मनरेगा आयुक्त पीसी किशन ने सभी जिला कार्यक्रम समन्वयक, ईजीएस एवं जिला कलक्टर्स को मनरेगा योजना के तहत कार्यरत मजदूरों को नोवल कोरोना वायरस (कोविड -19) संक्रमण से बचाने के लिए कार्यस्थल पर आवश्यक व्यवस्थाए सुनिश्चित करने के दिशा निर्देश दिए है। इसको लेकर बाड़मेर जिले में मंगलवार को मनरेगा कार्य स्थलों पर श्रमिकों को कोरोना वायरस से बचाव के बारे में जानकारी दी गई।
जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं जिला कलक्टर बाड़मेर जिले में कोरोना से बचाव के लिए समुचित इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि मनरेगा में कार्यरत कनिष्ठ तकनीकी सहायकों, ग्राम रोजगार सहायकों, कनिष्ठ सहायकों, मेट आदि को कोरोना वायरस संक्रमण की सारी जानकारी उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिए गए है। ताकि वे श्रमिकों को कोरोना के सक्रमण से बचाव के उपायों के संबंध में जागरूक कर सकें। उन्हें यह निर्देशित किया गया है कि वे कार्यस्थल पर कार्यरत श्रमिकों को साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने, साबुन से बार-बार हाथ धोने, खांसते या छींकते समय अपना मुंह ढकने एवं मास्क का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करें। अस्वस्थ या बीमारी के लक्षण खांसी, नाक बहना, बुखार आदि नजर आने वाले व्यक्ति से दूरी बनाए रखने के लिए भी उन्हें जागरूक किया जाए। उन्होंने बताया कि कार्यस्थल पर मेडिकल किट मेें हाथ धोने के लिए साबुन रखने के निर्देश दिए गए है। श्रमिकों को मेट के माध्यम यह जानकारी देने के लिए कहा गया है कि आंख और नाक को छूने से पहले, खाना खाने से पहले, शौचालय जाने के बाद, खांसी, छींक आने के बाद, दूषित या गंदे पदाथों, कचरा, जानवर एवं चिकित्सकीय अपशिष्ट से सम्पर्क में आने के बाद हाथों को अच्छी तरह से धोएं। श्रमिकों की उपस्थिति समूह में दर्ज नहीं करके मेट की ओर से कार्यस्थल पर जाकर दर्ज की जाएं। इसी तरह कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए क्या करें और क्या न करे? के संबंध में जानकारी प्रपत्र-6 की रसीद के पिछले भाग पर बूलेट पाईटं में छपवाने के निर्देश दिए गए है। जिस कार्मिक, मेट अथवा श्रमिक को खांसी, जुकाम या बुखार के लक्षण हो उन्हें मास्क का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करने एवं चिकित्सकीय परामर्श के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर भिजवाने के लिए निर्देशित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं