Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

कोरोना का शिकार होने पर डाक कर्मियों को 10 लाख रुपए का मुआवजा।

कोरोना का शिकार होने पर डाक कर्मियों को 10 लाख रुपए का मुआवजा। बाड़मेर। कोरोना वाइरस के दौरान ड्यूटी करने वाले डाक कर्मियों को क...

कोरोना का शिकार होने पर डाक कर्मियों को 10 लाख रुपए का मुआवजा।

बाड़मेर। कोरोना वाइरस के दौरान ड्यूटी करने वाले डाक कर्मियों को कोरोना वाइरस का शिकार होने पर 10 लाख रुपए का मुआवजा मिलेगा। डाक विभाग आवश्यक सेवाओ के अंतर्गत आता है। जिला डाक अधीक्षक उदय सेजू ने बताया ग्रामीण डाक सेवको सहित डाक कर्मचारी ग्राहको को डाक वितरण, डाक घर बचत बैंक, डाक जीवन बीमा और भारतीय डाक विभाग की आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम सेवा से विभिन्न सरकारी योजनाओ से प्राप्त सहायता राशि की न सिर्फ अपने खाते से बल्कि अन्य बेंकों के आधार लिंक्ड खातो से भी ग्राहको को धन राशि आहरित करने कि सुविधा शहरी और ग्रामीण क्षेत्र मे लाभार्थियो को उनके घर के दरवाजे पर प्रदान कर कृतव्यों का पालन कर रहे है। इसके अतिरिक्त डाक विभाग पूरे देश मे स्थानीय राज्य प्रशासन के साथ कोविड-19 के मेडिकल किट, भोजन के पेकेट, राशन और आवश्यक दवाए आदि भी वितरण कर रहा है। संचार विभाग ने पत्र जारी कर कोरोना-19 की स्थिति मे ड्यूटी पर किसी भी डाक कर्मचारी के संक्रमित होने पर दस लाख रुपए का मुआवजा देने के आदेश किए है।

कोई टिप्पणी नहीं