Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर, किसानों को मिलेगी सुविधा, 13 केवीएसएस और जीएसएस गौण मंडी घोषित।

बाड़मेर, किसानों को मिलेगी सुविधा, 13 केवीएसएस और जीएसएस गौण मंडी घोषित। - केन्द्रीय सहकारी बैंक घोषित निजी गौण मंडियों को उपलब्...

बाड़मेर, किसानों को मिलेगी सुविधा, 13 केवीएसएस और जीएसएस गौण मंडी घोषित।

- केन्द्रीय सहकारी बैंक घोषित निजी गौण मंडियों को उपलब्ध कराएंगे ऋण।
बाडमेर। राज्य सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिये जिले के  दो केवीएसएस तथा 11 ग्राम सेवा सहकारी समितियों को कृषि जिन्सों के क्रय विक्रय के नियमन के लिए निजी गौण मण्डी घोषित किया गया है। किसान अब अपनी नजदीकी कृषि उपज मण्डी में कृषि जिन्सों को खुली निलामी में बेचकर प्रतिस्पर्धात्मक मूल्य की सुविधा प्राप्त कर सकेगा।
जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते राज्य सरकार ने किसानों के संक्रमण की रोकथाम के लिए नियमों में शिथिलता प्रदान कर सहकारी समितियों को निजी गौण मण्डी प्रांगण घोषित किया है ताकि किसानों को अपनी कृषि उपज के बेचान के लिए दूर नहीं जाना पड़े। साथ ही नजदीकी स्थल पर ही उचित मूल्य पर किसान को उनकी फसल का वाजिब दाम मिल सकें। उन्होने बताया कि जिले में बाड़मेर एवं बालोतरा केवीएसएस तथा हरसाणी, भीयाड़, राजबेरा, नागडया, धनाऊ, धोरीमना, गुड़ामालानी, रतनपुरा, आसोतरा, सिवाना एवं पादरू ग्राम सेवा सहकारी समितियों को निजी गौड़ मण्डी घोषित किया गया है। निजी गौण मंडी घोषित सहकारी समितियों को कार्य करने में वितीय सहायता की कमी नहीं हो, इसके लिए सभी केन्द्रीय सहकारी बैंकों को नियमानुसार बिना प्रतिभूति सुख सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश किये गये है।

कोई टिप्पणी नहीं