Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

अकलेरा के 25 वर्षीय पंकज सैन ने कोविड़-19 की वैक्सीन परीक्षण के लिए अपने शरीर की पेशकश की।

अकलेरा के 25 वर्षीय पंकज सैन ने कोविड़-19 की वैक्सीन परीक्षण के लिए अपने शरीर की पेशकश की। झालावाड़/अकलेरा। एक ओर जहां कोरोना वायरस का...

अकलेरा के 25 वर्षीय पंकज सैन ने कोविड़-19 की वैक्सीन परीक्षण के लिए अपने शरीर की पेशकश की।

झालावाड़/अकलेरा। एक ओर जहां कोरोना वायरस का प्रकोप दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर इस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए पूरा देश एकजुट-सा दिखाई दे रहा है। देश के नागरिक तन, मन और धन से देश सेवा में दिखाई दे रहे हैं। कुछ ऐसा ही नजारा सरड़ा कस्बे में देखने को मिला। जहां सरड़ा कस्बे के 25 वर्षीय युवक पंकज सेन ने कोरोना वायरस पर शोध अथवा टीके के परीक्षण के लिए अपना शरीर प्रयोग करने के लिए अकलेरा उपखंड अधिकारी सुनील पूनिया को प्रधानमंत्री और चिकित्सा मंत्री के नाम पत्र सौपा। पत्र में बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से विश्व के कई देशों के साथ इस समय अपना देश, प्रदेश व जिला संकट से जूझ रहा है। दुनिया में प्रतिदिन लाखों लोग इस महामारी से संक्रमित और हजारों लोग मारे जा रहे हैं। ऐसे में अगर कोरोना वायरस की दवाई के प्रयोग के लिए देश के चिकित्सकों अथवा वैज्ञानिकों को मानव शरीर की आवश्यकता हो, जिस पर वह दवाई का प्रयोग करना चाहते हो तो पंकज सेन ने अपनी स्वेच्छा से अपना शरीर देने की पेशकश की। पंकज सेन ने बताया कि अगर दवाई का प्रयोग सफल होता है तो हमारा देश और हमारे चिकित्सक विश्व में इस तरह की महामारी से करोड़ों लोगों को बचा सकते हैं। इतने लोगों को बचाने के लिए अगर मेरे शरीर पर कोरोना वायरस की दवाई का प्रयोग किया जाता है तो मुझे प्रसन्नता होगी।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ा है पंकज सेन
पंकज सेन पुत्र चौथमल सेन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ा हुआ है। पंकज सेन ने बताया कि उनके काका सा. महावीर प्रसाद सेन उपखंड कार्यवाह है। पंकज सेन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और गायत्री परिवार से जुड़े हुए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं