Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

रेगिस्तान से एक ही परिवार की चार बहिने कोरोना फाइटर बनकर कर रही देश सेवा।

रेगिस्तान से एक ही परिवार की चार बहिने कोरोना फाइटर बनकर कर रही देश सेवा। @श्रीराम ढाका बाड़मेर। जिले के धोरीमन्ना उपखण्ड क्...

रेगिस्तान से एक ही परिवार की चार बहिने कोरोना फाइटर बनकर कर रही देश सेवा।

@श्रीराम ढाका
बाड़मेर। जिले के धोरीमन्ना उपखण्ड क्षेत्र में एक ही परिवार की चार बहिने कोरोना जैसी महामारी में कोरोना फाईटर बनकर देश मे सेवा दे रही हैं। धोरीमन्ना कस्बे में रहने वाले सुजानाराम खिलेरी ने कृषि कार्य करते हुए पुत्रो को शिक्षित कर अपने पूरे परिवार को विभिन्न विभागों में राजकीय सेवा में जाने के काबिल बना दिया। आज उनका पूरा परिवार उनके बताये मार्ग दर्शन पर चलकर अपना फर्ज अदा कर रहे हैं। उनके परिवार से उनकी चार पुत्रिया विभिन्न विभागों में अलग-अलग स्थानों पर कोरोना योद्धा के रूप में सेवा देकर अपनी सक्रिय भूमिका निभा रही हैं। उनकी सबसे बड़ी पुत्री रामकिशोरी भांडु कल्ला जोधपुर में पटवारी के रूप में पदस्थापित हैं, वर्तमान में कोरोनो हॉस्पिटल बोरानाडा जोधपुर में प्रशासनिक शाखा में कंट्रोल रूम में सेवा दे रही हैं। दिल्ली एम्स में स्टाफ नर्सिंग ऑफिसर के रूप में कार्यरत उनकी दूसरी पुत्री सरस्वती कोरोना हॉस्पिटल राजेन्द्र पार्क नई दिल्ली में कोरोनो वारियर्स बन कर सेवा दे रही हैं। तीसरी पुत्री डॉक्टर इंदुबाला उम्मेद हॉस्पिटल जोधपुर में कोरोना फाइटर बन कर मानव सेवा में लगी हुई हैं, वही एमडीएम हॉस्पिटल जोधपुर में आयुर्वेद चिकित्सक सबसे छोटी पुत्री डॉक्टर मधुबाला जोधपुर में कोरोना हॉटस्पॉट एरिया नागोरी गेट इलाके में कोरोनो फाइटर बन कर क्षेत्र में सर्वे कार्य कर रही हैं। सभी बहने करीबन एक माह से घर से दूर रहकर अपने - अपने कार्यक्षेत्र में ही रहकर अपने कर्तव्य पालन में लगी हुई हैं। आपस मे व परिजनों से सिर्फ फोन पर ही बात कर पाती हैं। इन चारो बहनों का कहना हैं कि माता पिता ने हमे पढ़ा लिखा कर काबिल बनाया अब मानव सेवा कर अपना फर्ज अदा कर रही हैं।

सुजानाराम के दोनो पुत्र भी प्रशासनिक सेवा में पदस्थापित हैं, उनके बड़ा पुत्र भजनलाल आरएएस एवं छोटा पुत्र कृष्णकुमार आईपीएस हैं। किसान परिवार के पुत्र पुत्रियो ने पढ़लिख कर परिवार गांव व समाज का नाम रोशन किया हैं।

अपने परिवार को कोरोना योद्धा के रूप में सेवाएं देते देखकर सुजानाराम खिलेरी बहुत ही प्रसन्न है। और उनका कहना है कि यह उनके लिए गौरव की बात है कि ऐसी महामारी में कोरोना के खात्मे के लिए पूरा देश जंग लड़ रहा है, जिसमें परिवार के सदस्यों को अपने अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते देख वह अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। सुजानाराम की पत्नी गंगा देवी संतानों को कोरोना योद्धा के रूप में सेवाएं देते देख गर्व से कहती है की अपनी संतानों को करोना योद्धा के रूप में सेवा देने का मौका मिला ये हमारे लिए बहुत ही खुशी की बात है। कोरोना महामारी को चलते पूरा देश लॉक डाउन चल रहा है में सभी से अपील करती हूं कि सभी अपने घर मे रहें सुरक्षित रहे। इस महामारी के दौर में हमें जनता की सेवा करने का मौका मिला इससे में बहुत खुश हूं और जो भी इस महामारी में सेवा दे रहे है जनता उनका सम्मान करें और प्रशासन का साथ दे।

कोई टिप्पणी नहीं