Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बायतू मे चिकित्सकीय सेवाओं का होगा विस्तार।

बायतू मे चिकित्सकीय सेवाओं का होगा विस्तार। - राजस्व मंत्री हरीश चौधरी के प्रयासों से बायतू अस्पताल मे 30 बेड से 75 बेड करने की...

बायतू मे चिकित्सकीय सेवाओं का होगा विस्तार।

  • - राजस्व मंत्री हरीश चौधरी के प्रयासों से बायतू अस्पताल मे 30 बेड से 75 बेड करने की मिली प्रशासनिक स्वीकृति, पद भी बढ़े। 
बाड़मेर/बायतू। लम्बे समय से चिकित्सकीय अव्यवस्थाओ के आलम से जूंझ रहे बायतू क्षेत्रवासियो के लिए अब खुश खबरी आई है। राज्य सरकार ने आदेश जारी कर राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बायतू में वर्तमान में 30 बेड से बढ़ाकर 75 बेड करने की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की है।बायतू उपखण्ड क्षेत्र का भू -भाग भी क्षेत्रफल के लिहाज से विस्तृत होने के कारण मुख्यालय पर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्रतिदिन मरीजों की संख्या ज्यादा रहती है। राष्ट्रीय राजमार्ग भी कस्बे के बीच मे से गुजरने के कारण आये दिन सड़क दुर्घटनाऐ भी घटित होने के कारण आपातकालीन मामले भी बढ़ जाते है मगर उसके अनुरूप मे उपखण्ड मुख्यालय पर स्थित इस अस्पताल मे सुविधाऐ नहीं है। ओपीडी के हिसाब से स्टॉफ की भी भारी कमी होने के कारण यहाँ आने वाले मरीजों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब राजस्व मंत्री हरीश चौधरी की अनुशंषा पर राज्य सरकार ने राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बायतू को 30 बेड से बढ़ा कर 75 बेड करने की प्रशासनिक स्वीकृति भी जारी कर दी है। इस अस्पताल मे बेड की संख्या बढ़ने के साथ ही यहाँ कार्यरत चिकित्सको समेत अन्य सभी कार्मिको के पद भी बढ़ जायेंगे। 
 34 से बढ़कर 65 होंगे पद - राजकीय सामुदायिक चिकित्सा केंद्र बायतू मे राज्य सरकार के आदेशानुसार 75 बेड का अस्पताल हो जाने के बाद यहाँ चिकित्सकीय सुविधाओ का भी विस्तार हो जायेगा जिसमे मुख्य रूप से कार्मिको की संख्या बढ़ जायेगी। वर्तमान मे इस अस्पताल मे कुल 34 पद स्वीकृत है जो बढ़कर अब 65 हो जायेंगे।

धोरीमन्ना मे पचास बेड का होगा अस्पताल - राजस्थान  सरकार के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग (ग्रुप2) द्वारा आदेश जारी कर बाड़मेर जिले मे बायतू सीएचसी को 75 बेड करने के साथ ही धोरीमन्ना सीएचसी मे भी बेड की संख्या बढ़ाते हुऐ 50 कर दी है। वर्तमान मे वहाँ पर भी 30 बेड का अस्पताल है। 

बाड़मेर जिले मे भी चिकित्सा सेवाओं का विस्तार बहुत ही आवश्यक है इसके लिए बायतू व धोरीमन्ना अस्पतालो मे बेडो की संख्या बढ़ाई गईं है। अब हमारी प्राथमिकता इन अस्पतालो मे बुनियादी  ढांचागत सुविधाऐ बढ़ाने की रहेगी।
- हरीश चौधरी, राजस्व मंत्री

कोई टिप्पणी नहीं