Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

अन्य जिलों में फर्जी तरीके से उठाया गेहूं, कार्यवाही के लिए डीएसओ को लिखा।

अन्य जिलों में फर्जी तरीके से उठाया गेहूं, कार्यवाही के लिए डीएसओ को लिखा। - भूरटिया के उचित मूल्य दुकानदार के खिलाफ पुलिस था...

अन्य जिलों में फर्जी तरीके से उठाया गेहूं, कार्यवाही के लिए डीएसओ को लिखा।

- भूरटिया के उचित मूल्य दुकानदार के खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज।
बाड़मेर। लाॅक डाउन के दौरान बिना बायोमेट्रिक सत्यापन के राशन सामग्री के प्रावधान का नाजायज फायदा उठाते हुए प्रदेश के कुछ अन्य जिलों में बाड़मेर के उपभोक्ताओं का गेहूं उठाने के प्रकरण सामने आए है। इसको गंभीरता से लेते हुए संबंधित जिला रसद अधिकारियों को उचित मूल्य दुकानदारों के खिलाफ कार्यवाही के लिए पत्र लिखे गए है।
जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि जैसलमेर के अलावा उदयपुर एवं डूंगरपुर जिले में कुछ उचित मूल्य दुकानदारों की ओर से लाॅक डाउन के दौरान बिना बायोमेट्रिक सत्यापन के राशन सामग्री के प्रावधान का नाजायज फायदा उठाते हुए बाड़मेर के कुछ उपभोक्ताओं का गेहूं उठाया गया है। संबंधित उपभोक्ताओं एवं प्रवर्तन अधिकारी की ओर से अवगत कराने के बाद जिला रसद अधिकारी अश्विनी गुर्जर की ओर से संबंधित जिला रसद अधिकारियों को ऐसे दुकानदारों के खिलाफ कार्यवाही के लिए पत्र लिखे गए है। इधर, जिला रसद अधिकारी अश्विनी गुर्जर ने बताया कि मौजूदा परिस्थितियों के मददेनजर उचित मूल्य दुकानदारों को निर्देश दिए गए है कि दुकान समय पर खुली रखते हुए खाद्य सुरक्षा योजना में चयनित पात्र लाभार्थियों को राशन वितरण करेंगे। उनके मुताबिक भूरटिया के उचित मूल्य दुकानदार पदमाराम पुत्र लुंभाराम की ओर से गंभीर अनियमितताएं बरती जाने पर उसके खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से उत्पन्न विशेष परिस्थितियों को देखते हुए खाद्य सुरक्षा योजना में जुड़े हुए पात्र परिवारों को गेहूं वितरित किए जा रहे है। उचित मूल्य दुकानदारों को पात्र लाभार्थियों को एक मीटर की दूरी पर खड़ा रखते हुए राशन वितरण करने के निर्देश दिए गए है। जिला रसद अधिकारी गुर्जर ने बताया कि निर्देशों की अवहेलना करने पर संबंधित उचित मूल्य दुकानदार के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं