Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर, कोरोना रोकथाम में जुटी आशाएं, जागरूकता के साथ कर रही हैं नवाचार।

बाड़मेर, कोरोना रोकथाम में जुटी आशाएं, जागरूकता के साथ कर रही हैं नवाचार। बाड़मेर। आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवातला की आश...

बाड़मेर, कोरोना रोकथाम में जुटी आशाएं, जागरूकता के साथ कर रही हैं नवाचार।

बाड़मेर। आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवातला की आशाओं ने आमजन को कोरोना से बचाने के लिए कई प्रकार नवाचार किए है। उन्होंने महिलाओं का वाटसअप ग्रुप बनाने के साथ घर-घर जाकर जागरूकता अभियान के साथ मास्क वितरित करने का बीड़ा उठाया है।
नवोड़ा बेरा सब सेन्टर की आशा फातमा बानो, रजिया बानो, धन्नी देवी, ममता बानो ने अपने आंगनबाड़ी कार्य क्षेत्र की शिक्षित महिलाओं एवं किशोरियों का एक वाट्सअप ग्रुप बनाया है, जो अपने गांव एवं ढाणियों मे कोरोना बचाव के प्रति लोगों को जागरुक करने का काम करने के साथ विभिन्न प्रकार की अफवाहो फैलने से रोक रहा है। इसके जरिए गांव में बाहर से आने वाले लोगों पर भी नजर रखी जा रही है। इस कार्य में उन्नति संस्था की ओर से प्रशिक्षित किशोरियां की मदद ली जा रही है। इसके अलावा किसी   परिवार में खाद्य सामग्री की कमी है तो ग्राम पंचायत को खाद्य सामग्री के लिए सूचित किया जा रहा है। सर्दी, जुकाम का मरीज होने पर तत्काल उपचार करवाने एवं अस्पताल में सूचना देने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इनका प्रयास है कि प्रत्येक ग्रुप सदस्य अपनी ढाणी एवं बस्ती की जिम्मेदारी ले, ताकि सबके घर कोरोना से सुरक्षित रहे।

कॉल रजिस्टर के जरिए मोनेटरिंगः आशाओं ने बाहर से आए लोगों के स्वास्थ्य संबंधित प्रभावी मोनेटरिंग के लिए कॉल रजिस्टर संधारित किया है। यह आशाएं प्रत्येक तीसरे दिन कॉल करके पूछती है कि किसी व्यक्ति को सर्दी खांसी एवं बुखार तो नहीं है। यदि सर्दी खांसी के लक्षण है, तो तत्काल अस्पताल आने के प्रेरित करती है। वे लगातार आमजन को घर रहने की सलाह देने के साथ होम आइसोलेशन की पालना करवा रही है। नवोड़ाबेरा की आशा फातमा ने नवोड़ाबेरा ग्राम पंचायत मुख्यालय के चौराहे पर कोरोना को लेकर रंगोली बनाकर आमजन को लॉक डाउन के नियमों की पालना करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। आशा हेमी देवी के पति तगाराम अपनी पत्नी को पूरा साथ दे रहे है। वो अपनी पत्नी की सर्वे में मदद करने के साथ ग्रामीणों से मोबाइल पर बात करके कोरोना से बचाव के बारे मार्गदर्शन करते है। इसी तरह रसाल देवी आशा के पति देवाराम पूरा साथ दे रहे है। केशरपुरा की आशा सुमानी गर्भवती होने के बावजूद सर्वे कर रही है। भगवानपुरा की आशा रिंकु देवी के पति आशुराम कोरोना के प्रति युवाओ को जागरुक करने में जुटे है। आशा लाच्छो स्वयं दिव्यांग होने, रम्भा देवी कम पढ़ी लिखी होने के बावजूद कोरोना से निपटने की लड़ाई में जुटी हुई है। आशा कमला देवी इस कार्य में अपने पड़ौसियों का सहयोग ले रही है। आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवातला में महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के पद रिक्त होने के बावजूद यह आशाएं एन्टी लार्वा गतिविधियां, सर्दी, जुकाम, दस्त, निमोनिया संबंधित रिपोर्ट तैयार करवाने के लिए सर्वे में जुटी है। इनकी ओर से बाहरी व्यक्तियों की तत्काल सूचना दी जा रही है। इसके कारण कई बार स्थानीय स्तर पर विरोध का भी सामना करना पड़ता है। मौजूदा समय में आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवातला कार्य क्षेत्र मे 18 टीमें काम कर रही है। जो प्रत्येक दिन औसत दस घरों का सर्वे करती है। यहां 18 मार्च से अब तक 5924 घरों एवं  29666 लोगों का सर्वे करते हुए कोरोना वायरस के बारे जागरूक किया गया है। अन्य राज्यो से आए 263  लोगों की स्क्रीनिंग करवाने के साथ होम आइसोलेशन करवाया गया है। यह कार्य मेल नर्स प्रथम राधे श्याम सोलंकी, आयुर्वेद विभाग के मेल नर्स गोपाराम गर्ग एवं आशा सुपरवाइजर भगवान चंद के सुपरविजन में संपादित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं