Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पनावड़ा के तीन भाई कोरोना वॉरियर्स बनकर डटे हैं मैदान में।

पनावड़ा के तीन भाई कोरोना वॉरियर्स बनकर डटे हैं मैदान में। बाड़मेर। वैश्विक महामारी घोषित हो चुके कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकन...

पनावड़ा के तीन भाई कोरोना वॉरियर्स बनकर डटे हैं मैदान में।

बाड़मेर। वैश्विक महामारी घोषित हो चुके कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरी दुनियांभर के वैज्ञानिक दिन - रात एक कर दवाई बनाने में लगे हुए हैं। इस समय इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए भारत मे लॉक डाउन चल रहा हैं। इसी लॉक डाउन को सुरक्षित तरीके से सफल बनाने में धरातल पर कई सारे अधिकारियों के साथ वॉलिंटियर्स कोरोना वॉरियर्स बनकर अपने देश और आमजन को इस अदृश्य ख़तरे से बचाने के लिए दिन-रात अपने परिवार ओर खुद की फिक्र किये बिना अपना फर्ज निभा रहे हैं। इन योद्धाओं को इस मुश्किल संकट में आम दिनों से ज्यादा समय अपने फर्ज के चलते लगातार कार्य करना पड़ रहा हैं। कई सारे ऐसे कर्मवीर हैं जिनको इस भयानक संक्रमण को रोकने के लिए 18 से 20 घंटे तक मोर्चे पर डटे हुए रहना पड़ता हैं। ऐसे ही कर्मवीर योद्धाओं से हम हर रोज आपको रू-बरू करवाते रहते हैं, आज हम पनावड़ा के तीन कोरोना से मुकाबला करने वाले कर्मवीर भाइयों से आपको रू-बरू करवाते हैं। 

आईएएस डेलू ने सैंकड़ों विदेशी पर्यटकों को करवाई वतन वापसी
पनावड़ा निवासी आईएएस भंवरलाल डेलू राजस्थान प्रदेश के सबसे महत्वपूर्ण पर्यटन विभाग के निदेशक के पद पर है। इसके साथ ही इनके पास स्टेट मेडिकल वॉर रूम के सदस्य की जिम्मेदारी भी निभा रहे हैं, इसके साथ ही बांसवाड़ा जिले में कोरोना की मॉनिटरिंग का कार्य भी अपने कंधों पर लिए हुए हैं। आईएएस भंवरलाल डेलू कार्य करते हुए उदयपुर, चितौडग़ढ़ समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में फंसे विदेशी पर्यटकों को सुरक्षित अपने वतन की वापसी करवा रहें है। भारत मे चल रहे लॉक डाउन के बाद से अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा बंद हैं। ऐसे में इन विदेशी सैलानियों की सूचना उनके संबंधित देश के दूतावास में  देते हैं। वहां इधर से सूचना मिलने के बाद वापस ई-मेल द्वारा जवाब मिलते ही इन विदेशी पर्यटकों को विशेष विमान से दिल्ली या मुम्बई तक पहुंचाया जा रहा है। अब तक एक सौ से अधिक जर्मनी, फ्रांस समेत अन्य देशों के पर्यटकों को अपने देश भेजा जा चुका है।


जोधपुर के ओसियां में हैं डटे हैं बाबूराम डेलू
भंवरलाल डेलू के भाई बाबूराम डेलू ओसिया थाने में थानाधिकारी के पद पर कार्यरत है। ताजा हालातो के कारण कोरोना पॉजिटिव के मामलों में राजस्थान में जयपुर के बाद दूसरे नम्बर पर जोधपुर हॉट स्पॉट है। इस वैश्विक महामारी के खतरे को फैलने से रोकने के लिए जोधपुर जिले में चारों तरफ बचाव के लिए हर तरह की टीमें तैनात हैं। जोधपुर में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ओसिया में भी संक्रमण फैलने की बहुत ज्यादा संभावना बनी हैं। इसी खतरे से निपटने के लिए पनावड़ा के बाबूलाल डेलू अपने फर्ज को निभाने में ओसियां पुलिस थाने में थानाधिकारी के रूप में अपनी टीम के साथ थाना क्षेत्र में लगे नाकों पर मुस्तैद है।

झालावाड़ के जावर में हैं हीराराम डेलू
आईएएस भंवरलाल डेलू ओर बाबूलाल डेलू की तरह ही इनके भाई हिराराम डेलू लॉक डाउन की घोषणा के बाद से झालावाड़ जिले के जावर थाने में बतौर कांस्टेबल लगातार मुस्तेद हैं। इन भाइयों की तरह अनगिनत कर्मवीर योद्धाओं ने अपने  देश मे बढ़ रहे मौत के तांडव को रोकने के लिए दिन - रात अपने कर्तव्य को ही सबकुछ मानकर परिवार से ज्यादा अपने देश की जनता का ख्याल करना समझते हैं। दो कदम गांव की ओर परिवार ऐसे योद्धाओं को दिल से सेल्यूट करता हैं।

कोई टिप्पणी नहीं