Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाटाडू, पानी की होदी क्षतिग्रस्त कभी भी हो सकता है हादसा।

बाटाडू, पानी की होदी क्षतिग्रस्त कभी भी हो सकता है हादसा। @घमण्डाराम परिहार बाड़मेर/बायतु। उपखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में आ...

बाटाडू, पानी की होदी क्षतिग्रस्त कभी भी हो सकता है हादसा।

@घमण्डाराम परिहार
बाड़मेर/बायतु। उपखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में आमजन को गर्मी के मौसम में प्राप्त पेयजल उपलब्ध हो इसके लिए सरकार ने गांव-गांव जीएलआर बनवाए। इससे ग्रामीण इलाकों में आमजन के साथ पशुओं के लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था हो सके। लेकिन वर्षो से बने बाटाडू बस स्टैंड के पास जीएलआर अब धराशायी होने की कगार पर है। लेकिन प्रशासन को इस संबंध में कोई भी परवाह नजर नहीं आ रही है। गिरने की कगार पर जीएलआर 
बाटाडू बस स्टैंड के पास बना है। ऐसे में हादसे होने की आशंका बनी रहती है। इसकी मरम्मत को लेकर ग्रामीणों ने कई बार जलदाय विभाग व जनप्रतिनिधियों को अवगत करवाया गया, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ। अब जीएलआर का क्षतिग्रस्त हिस्सा धराशायी होने की कगार पर है। ग्रामीण जोगाराम जांगिड़ ने बताया कि जीएलआर की छाया में दोपहर के समय गाये  विचरण करती है तथा पशुधन दोपहर को विश्राम करते हैं। क्षतिग्रस्त होने के कारण पशुधन को हर समय खतरा बना रहता है।इन दिनों लॉक डाउन के चलते भीड़ भाड़ कम रहती हैं। जीएलआर बाटाडू के व्यस्ततम बाजार में बनी होने के कारण यहां पर लोगों का आवागमन भी रहता है जिसके कारण हादसे का भय बना रहता है।

कोई टिप्पणी नहीं