Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर में होगी कोरोना की जांच, आरपीटीसीआर मशीन पहुंची।

बाड़मेर में होगी कोरोना की जांच, आरपीटीसीआर मशीन पहुंची। - आरपीटीसीआर के स्टालेशन एवं कुछ अन्य उपकरणों के आने के बाद शुरू होगी ज...

बाड़मेर में होगी कोरोना की जांच, आरपीटीसीआर मशीन पहुंची।

- आरपीटीसीआर के स्टालेशन एवं कुछ अन्य उपकरणों के आने के बाद शुरू होगी जांच
बाड़मेर। बाड़मेर मेडिकल कॉलेज में आगामी कुछ दिनों में कोरोना की जांच शुरू होगी। इसके लिए आरपीटीसीआर मशीन बाड़मेर पहुंच चुकी है। स्थानीय स्तर पर कोरोना की जांच होने से संक्रमण फैलने का खतरा नहीं रहेगा।
जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में आरपीटीसीआर मशीन के स्टालेशन के साथ कोरोना जांच की प्रक्रिया शुरू होगी। अब तक कोरोना की जांच के लिए जोधपुर नमूने भेजे जाते है। कई बार इसकी रिपोर्ट आने में देरी लगती है। इस दौरान संदिग्ध और संक्रमित मरीज साथ-साथ रहने से संक्रमण फैलने का भी खतरा रहता है। स्थानीय स्तर पर जांच शुरू होने से इस पर अंकुश लगेगा। इधर, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ एन. डी. सोनी ने बताया कि कोरोना की जांच कुछ अन्य उपकरण आने के बाद शुरू होगी। इसको लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। उन्होंने बताया कि आरटी-पीसीआर टेस्ट से तत्काल यह पता चलता है कि संदिग्ध व्यक्ति सार्स-कोविड-2 व अन्य वायरस से संक्रमित है या नहीं। इस मशीन से स्वाइन फ्लू, बर्ड फ्लू, इन्फ्लूएंजा सहित अनेक तरह के फ्लू और वायरस की जांच एवं तुरंत परिणाम संभव है।
उनके मुताबिक कोरोना संक्रमण की पुष्टि के लिए नेजल और थ्रोट स्वाब की जांच रियल टाइम रिवर्स ट्रांसक्रिप्सन पॉलीमरेज चेन रिएक्शन, आरटी पीसीआर मशीन पर होती है। इस मशीन को मेडिकल कॉलेज की प्रयोगशाला में लगाया जाएगा। इसके लिए निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। कोरोना वायरस की जांच के लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च से स्वीकृति ली जा रही है। मशीन को इंस्टॉल करने के बाद एक नमूने की जांच करके आइसीएमआर को भेजी जाएगी। और वहां विशेषज्ञ मशीन की प्रामाणिकता की जांच करेंगे। इसके साथ ही बाड़मेर में कोरोना की जांच का कार्य शुरू हो जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं