Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

कोविड- 19 ड्यूटी के साथ- साथ पर्यावरण सेवा कर रहे हैं शिक्षक।

कोविड- 19 ड्यूटी के साथ- साथ पर्यावरण सेवा कर रहे हैं शिक्षक। बाड़मेर/बायतु/गिड़ा। क्षेत्र में कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने म...

कोविड- 19 ड्यूटी के साथ- साथ पर्यावरण सेवा कर रहे हैं शिक्षक।

बाड़मेर/बायतु/गिड़ा। क्षेत्र में कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने में लगे हुए कार्मिकों में शिक्षकों का भी महत्वपूर्ण स्थान है। जिसमें सर्वे कार्य, आइसोलेशन, निगरानी दल, जांच कार्य, राजस्व ग्राम प्रभारी, सतर्कता दल, चेकपोस्ट, कंट्रोल रूम, सूचनाओं के आदान-प्रदान, राशन सामग्री वितरण आदि कार्यो को शिक्षक बखूबी से अंजाम दे रहे हैं, इसके साथ-साथ पर्यावरण सेवा में भी अपना योगदान दे रहे हैं।
ऐसा ही योगदान बायतु उपखंड के पूनिया का तला पीईईओ क्षेत्र में शिक्षक कर रहे हैं। इको क्लब प्रभारी संतोष कुमार गोदारा ने बताया कि इस सत्र के प्रारंभ में पीईईओ क्षेत्र के सभी विद्यालयों में वृक्षारोपण किया गया था, साथ ही इको क्लब राउमावि पूनियों का तला के द्वारा मुख्य सड़क के किनारे सैकड़ों पौधे लगाए गए, इसके अलावा ग्राम पंचायत चौक, झंडा जी का मंदिर, खेल मैदान, विद्यालय परिसर में अनेक पौधे लगाए गए थे। वर्तमान में जहां गर्मी बढ़ रही है इस वर्ष बरसात भी कम हुई थी दो माह से विद्यालय भी बंद है इस कारण पेड़ पौधों की हालत दयनीय हो रही है इस स्थिति में कोविड-19 ड्यूटी में लगे हूए और मुख्यालय पर उपस्थित शिक्षक लगातार इनकी देखभाल कर रहे हैं।
बुधवार को भी ट्रैक्टर की टंकी के माध्यम से समस्त पौधों को पानी पिलाया गया और तारबंदी रिपेयरिंग की गई। जिसमें व्याख्याता संतोष कुमार गोदारा, इंदा राम, कुलदीप सिंह, बालू सिंह, खरथाराम, फौजाराम, बजरंग खिलेरी, राकेश अग्रवाल, हरिराम सारण, गोरखा राम पूनिया, जियाराम माचरा का सहयोग रहा। इसके साथ ही पक्षियों के लिए परिंडे और चुग्गा पात्र लगाने में भी अपना योगदान दिया। इस प्रकार इस वैश्विक महामारी कोरोना से जुड़ी ड्यूटी के साथ-साथ पर्यावरण की भी अमूल्य सेवा शिक्षक कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं