Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर, अब तक 28646 प्रवासियों की हुई घर वापसी, 4533 ने किया प्रस्थान।

बाड़मेर, अब तक 28646 प्रवासियों की हुई घर वापसी, 4533 ने किया प्रस्थान। बाड़मेर। लाॅक डाउन के कारण अन्य राज्यों में फंसे राज्य के...

बाड़मेर, अब तक 28646 प्रवासियों की हुई घर वापसी, 4533 ने किया प्रस्थान।

बाड़मेर। लाॅक डाउन के कारण अन्य राज्यों में फंसे राज्य के प्रवासियों का आगमन एवं अन्य राज्यों में जाने वालों के प्रस्थान का सिलसिला जारी है। सोमवार को जिले में कुल 2312 श्रमिकों एवं प्रवासियों का आगमन हुआ, वहीं 58 अन्य राज्यों के प्रवासियों ने प्रस्थान किया।
जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि जिले में सोमवार को गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, आंध्र प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, हरियाणा, तमिलनाडू, तेलंगाना, केरल, उतराखण्ड, गोवा, हिमाचल प्रदेश एवं उड़ीसा से राज्य के प्रवासियों एवं श्रमिकों को जिले कि सीमा में प्रवेश दिया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में सोमवार को गुजरात से 96, महाराष्ट्र से 597, मध्यप्रदेश से 10, आन्ध्रप्रदेश से 18, दिल्ली से 18, कर्नाटक से 349, हरियाणा से 8, तमिलनाडू से 1091, तेलंगाना से 83, केरल से 10, उतराखण्ड से 1, गोवा से 15, हिमाचलप्रदेश से 6 तथा उड़ीसा से 10 को मिलाकर कुल 2312 राज्य के प्रवासियों को सरकारी एवं निजी वाहन से जिले में प्रवेश की अनुमति दी गई है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक कुल 28646 प्रवासियों का आगमन हुआ है।
उन्होंने बताया कि जिले में अन्य राज्यों के प्रवासियों को सरकारी एवं निजी वाहनों से भेजा भी जा रहा है। जिले से सोमवार को मध्यप्रदेश के लिए 2, उत्तर प्रदेश के लिए 4, महाराष्ट्र के लिए 13, बिहार के लिए 4, हरियाणा के लिए 1, गुजरात के लिए 4, दिल्ली के लिए 3, उतराखण्ड के लिए 2, कर्नाटक के लिए 3, तेलंगाना के लिए 5 एवं तमिलनाडू के लिए 17 को मिलाकर कुल 58 श्रमिकों को जिले की सीमा से प्रस्थान करवाया गया है। उन्होंने बताया कि अब तक जिले से 4533 लोगों को अपने मूल राज्यों के लिए प्रस्थान हेतु अनुमति दी गई है। 
जिला कलक्टर मीणा ने जिले में प्रवेश की चौकियों पर प्रवासियों के प्रवेश पर सघन स्क्रीनिंग के निर्देश दिए है, साथ ही अन्य राज्यों के लिए प्रस्थान करने वालों की पूर्व में स्वास्थ्य जांच कर ली जावे। चैक पोस्ट पर निजी वाहनों में आने वाले सभी यात्रियों के मोबाईल नम्बर अंकित करने को कहा, ताकि क्वारेंटाईन के दौरान ट्रेसिंग सुनिश्चित हो सके।

कोई टिप्पणी नहीं