Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

मानव से लेकर मूक पशु-पक्षियों की सेवा में लगे हैं संत।

मानव से लेकर मूक पशु-पक्षियों की सेवा में लगे हैं संत। @राजेश भाटी बाड़मेर/समदड़ी। कोरोना महामारी के इस संकट की घड़ी में साधु ...

मानव से लेकर मूक पशु-पक्षियों की सेवा में लगे हैं संत।

@राजेश भाटी
बाड़मेर/समदड़ी। कोरोना महामारी के इस संकट की घड़ी में साधु संत मानव से लेकर बेजुबान पशु पक्षियों की सेवा में लगे हैं। क्षेत्र के श्री मामाजी डूंगर सिंह राठौड़ गौ सेवा समिति सड़लानाडा लालाना के सरंक्षक एवं निबेश्वर महादेव मठ मठाधीश महन्त भुवनेश्वरपुरी महाराज द्वारा मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री के आदेशों की पालना में इस संकट की घड़ी में कोई भूखा नही सोये लॉकडाउन के मध्यनजर  महाराज द्वारा चार से पांच गांवो में आर्थिक स्थिति व लॉकडाउन में  खाद्य सामग्री के 200 किट वितरण किये गए, और खाद्य सामग्री का वितरण निरन्तर शुरू है। गौशाला में महन्त बे जुबान पशुओं के लिए रात दिन सेवा में लगे हुए है, ओर गायों के लिए हरी घास, सुखी घास सहित गुड़ का स्टॉक किया हुआ है। वही राज्य सरकार, भामाशाहों द्वारा गौशाला में चारे की पर्याप्त व्यवस्था की हुई है। वही गौशाला में एक महीने में दो बार गौ माता के लिए लापसी बनाई जाती है, और गौ माता को खिलाई जाती है। जब हमारी टीम ने लॉक डाउन में बेजुबान पशुओं के गौशाला की व्यवस्थाओं को लेकर जायजा लिया तो गौशाला में 100 किलो की गायों के लिए लापसी बनाई जा रही थी। इस संकट की घड़ी में इन बेजुबान पशुओं कोई कष्ट नही हो, गायो के लिए हरी घास, सुखी घास, गुड़ सहित लापसी खिलाई जाती है। इस लॉक डाउन में क्षेत्र के विख्यात श्री मामाजी महाराज मन्दिर को बन्द रखा गया हैं। जिससे श्रद्धालुओं एंव भामाशाहों के नही आने से चारे, गुड़ आदि की कमी आई है। गौशाला में आवारा पशुओं के लिए किसी भी प्रकार कि चोट लगने पर इस गौ शाला में इलाज किया जाता है। उन पशुओं के लिए चारे पानी की व्यवस्थाओं का संचालन भी गौशाला द्वारा कीया जाता है। महन्त द्वारा इस लॉकडाउन में भी पशुओं के लिए, पक्षियों के दाने की व्यवस्था की जा रही है। राज्य सरकार ग्रामीण और आस पास के किसानों द्वारा सूखे चारे की गोशाला में व्यवस्था की जा रही है। महन्त भुनेश्वरपुरी महाराज देश पर आये इस संकट की घड़ी में सभी से अपील भी कर रहे है, कि  श्रद्धालुओं एव भगत भाविकों एवं आमजन से प्रशासन के दिशा-निर्देशो का पालन करे, मास्क का उपयोग करे, बार - बार साबुन से हाथ धोये, बिना काम घरों से बहार नही निकले, अनावश्यक नही घुमे, सजग रहे स्वस्थ रहे।

कोई टिप्पणी नहीं