Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

फसलों को बचाने के लिए समय रहते टिड्डी पर नियंत्रण जरूरी: कटारिया

फसलों को बचाने के लिए समय रहते टिड्डी पर नियंत्रण जरूरी: कटारिया टिड्डी चेतावनी संगठन को 40 गाड़ियां उपलब्ध, 600 ट्रेक्टर किराए ...

फसलों को बचाने के लिए समय रहते टिड्डी पर नियंत्रण जरूरी: कटारिया

टिड्डी चेतावनी संगठन को 40 गाड़ियां उपलब्ध, 600 ट्रेक्टर किराए पर लेने की स्वीकृति जारी।
जयपुर। कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने कृषि विभाग के अधिकारियों को टिड्डी चेतावनी संगठन (एलडब्ल्यूओ) के साथ समन्वय कर प्रभावी टिड्डी प्रबंधन एवं नियंत्रण करने के निर्देश दिए। उन्होंने इसके लिए काश्तकारों का भी पूरा सहयोग लेेने को कहा। कटारिया सोमवार को यहां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभागीय अधिकारियों के साथ राज्य में टिड्डी की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे।

कृषि मंत्री ने बताया कि फसलों को बचाने के लिए समय रहते टिड्डी पर नियंत्रण जरूरी है। इसके लिए राज्य सरकार हरसंभव संसाधन उपलब्ध करा रही है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने टिड्डी चेतावनी संगठन को 40 गाड़ियां उपलब्ध कराई है। 600 ट्रेक्टर किराए पर लेने की स्वीकृति जारी की गई है। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार से भी अतिरिक्त संसाधन उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है। 

कटारिया ने अधिकारियों को प्रभावी सर्वे कर टिड्डी नियंत्रण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पर्याप्त मात्र में पेस्टिसाइड्स उपलब्ध है। जहां भी पेस्टिसाइड्स की जरूरत हो वह तुरंत बताएं। वाहन, पेस्टिसाइड्स एवं अन्य संसाधनों के अभाव में कहीं भी टिड्डी अनियंत्रित नहीं होनी चाहिए।

कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि विभाग के अधिकारी टिड्डी चेतावनी संगठन के अधिकारियों के साथ निरंतर समन्वय बनाए रखें। साथ ही प्रगतिशील काश्तकारों का भी पूरा सहयोग लें।

प्रभावित क्षेत्र में 138 सर्वे टीम लगाई, 45 गाड़ियों से कीटनाशक स्प्रे कृषि आयुक्त डॉ. ओमप्रकाश ने बताया कि राज्य के गंगानगर, बाड़मेर, जोधपुर, नागौर एवं अजमेर जिले टिड्डी से प्रभावित है। विभागीय टीमें पूर्ण सजगता के साथ सर्वे कर प्रभावी टिड्डी नियंतरण कर रही है। प्रभावित क्षेत्र में 138 सर्वे टीम लगी हुई है। टिड्डी चेतावनी संगठन की ओर से 45 गाड़ियों के माध्यम से कीटनाशक स्प्रे का कार्य किया जा रहा है। 

केन्द्र सरकार से हवाई स्प्रे के लिए ड्रोन उपलब्ध कराने का आग्रह 
कृषि आयुक्त ने बताया कि मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने केन्द्रीय कृषि सचिव को पत्र लिखकर सर्वे एवं कीटनाशक छिड़काव के लिए अतिरिक्त वाहन, हवाई स्प्रे के लिए ड्रोन तथा अन्य आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने का आग्रह किया है। उन्होंने बताया कि मुख्य सचिव की ओर से सभी प्रभावित जिलों के कलक्टर को भी प्रभावी टिड्डी नियंत्रण के लिए पत्र लिखा जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं