Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

जीवदया मैत्री ग्रुप द्वारा स्वानो की बीमारी के लिए तीसरे चरण का आगाज।

जीवदया मैत्री ग्रुप द्वारा स्वानो की बीमारी के लिए तीसरे चरण का आगाज। दो चरण में 3000 स्वानों को खिलाई गई थी दवाई मुक वधिर प...

जीवदया मैत्री ग्रुप द्वारा स्वानो की बीमारी के लिए तीसरे चरण का आगाज।

  • दो चरण में 3000 स्वानों को खिलाई गई थी दवाई
  • मुक वधिर पशु-पक्षियों की सेवा से ही पुण्य सम्भव होता है : न्यायाधीश जैन
बाड़मेर। लाॅकडाउन के दौरान जीव दया मैत्री ग्रुप बाड़मेर स्वानों की खुजली के इलाज के लिए चलाए जा रहे अभियान के तीसरे चरण का और पंछियो के परिण्डे लगाने के तीसरे चरण का आगाज अपर जिला न्यायाधीश सुशील कुमार जैन ने शनिवार को कल्याणपुरा जैन छात्रावास में किया। लाॅकडाउन में मूक प्राणियो के आहार के लिए चल रही चल भोजनशाला में मुक प्राणियों की सेवा के दौरान पाया कि स्वान खुजली की बीमारी से पीड़ित है तब संस्था ने इसका इलाज कराने का निर्णय किया और दो चरणों में लगभग 3000 स्वानों को दवाई दी गई। जीव दया मैत्री ग्रुप के संयोजक एडवोकेट मुकेश जैन ने बताया कि डाॅक्टरो की सलाह से इन स्वानो के लिए दवाई खरीदी गई है और इस दवाई को मावे के पेड़ो में मिलाकर स्वान्नो को दो चरणों में दोे बार खिलाई गई जिस से स्वानो को इस जानलेवा रोग से आराम मिलने लगा। दो चरण की सफलता के बाद तीसरा चरण शनिवार को प्रारम्भ किया गया ताकि इन मूक स्वान्नो को खुजली जैसे गम्भीर रोग से निजात मिल सके तथा शहर में गम्भीर रोग ना फैले।  जीव दया ग्रुप के वरिष्ठ सदस्य मदन बोथरा और छगन घीया ने बताया कि जीव दया ग्रुप बाड़मेर की तरफ से 3 अप्रैल से लगातार मूक प्राणियो गाय नंदी, स्वानो, पंछियो, मोर, और मछलियों के आहार पानी की यवस्था की जा रही है। जीव दया ग्रुप बाड़मेर के वरिष्ठ सदस्य रमेश पारख और रमेश सर्राफ ने बताया कि ग्रुप की तरफ से दो चरणों मे 150 से अधिक पानी के परिण्डे लगाए जा चुके है तीसरे चरण ने 100 परिण्डे और लगाए जा रहे है जिसका आगाज आज जज साहब ने किया। ग्रुप की तरफ से शहर की प्रत्येक गोशाला में हरा चारा उपलब्ध कराया गया है और पथमेड़ा गोशाला में प्रतिदिन हरा चारे के साथ बीमार गोवंश को दवाई उपलब्ध कराई गई है। अपर जिला न्यायाधीश सुशील कुमार जैन ने ग्रुप के कार्यो की सराहना करते हुये कहा कि मुक वधिर पशु-पक्षियों की सेवा से ही पुण्य सम्भव होता है। इंसान को आहार पानी सरकार के साथ विभिन्न संस्थाए और भामाशाह उपलब्ध करवा रहे है, लेकिन मूक प्राणियों के आहार की लिए बिरले ही सोचते है, उन्होंने ग्रुप के कार्यो की सराहना करते हुये ग्रुप उस कार्यक्रम को निरंतर जारी रखने का आह्वान किया। अपर जिला न्यायाधीश ने कहा कि ग्रुप के इस कार्य से स्वान्नो में फेल रही बीमारी न केवल रुकेगी बल्कि शहर में बीमारी फैलने की शंका से भी निजात मिलेगी। इस अवसर पर ग्रुप के वरिष्ठ सदस्य मदनलाल बोथरा गोडाणी, छगनलाल घीया, मदनलाल घीया, संयोजक मुकेश जैन, धनराज भन्साली, रमेश पारख, संजय संखलेचा, रमेश सर्राफ,प्रवीण सेठिया, बाबुलाल लुनिया, मुकेश जसाई, गौतम सेठिया, रमेश बोहरा सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं