Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पिण्डवाड़ा, कोरोना योद्धाओ को सम्मानित कर बढ़ाया हौसला।

पिण्डवाड़ा, कोरोना योद्धाओ को सम्मानित कर बढ़ाया हौसला। @मुकेश पाल सिंह सिरोही/पिंडवाड़ा। नगर के ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकार...

पिण्डवाड़ा, कोरोना योद्धाओ को सम्मानित कर बढ़ाया हौसला।

@मुकेश पाल सिंह
सिरोही/पिंडवाड़ा। नगर के ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एस पी शर्मा और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सभी चिकित्सा कर्मियों का मातृछाया अस्पताल पिंडवाड़ा की तरफ से साफा एवं माल्यार्पण द्वारा सम्मानित करके हौसला बढ़ाया। मातृछाया हॉस्पिटल ग्रुप के डायरेक्टर भरत पाल बेंदा और डॉ. डीआर रेवाड़ ने बताया कि कोविड-19 से फेले भयानक संक्रमण के दौरान ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एस पी शर्मा आदिवासी क्षेत्र के पहाड़ी इलाके में दौरे के दौरान फिसल कर चोटिल होने के बावजूद अपने दर्द को भूल कर अपनी पूरी टीम के साथ मुस्तैदी से काम कर रहे हैं, वह वास्तव में काबिले तारीफ है। इस मौके पर मातृछाया हॉस्पिटल ग्रुप के डायरेक्टर बेंदा ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पिंडवाड़ा के प्रभारी डॉक्टर केएस गिल, डॉक्टर ईश राम, डॉक्टर कश्यप जानी, ब्लॉक कार्यक्रम प्रबंधक अधिकारी रोहिताश चौधरी, लैब टेक्नीशियन हरीश मीणा, दीपक जोशी, लियाकत अली, मेल नर्स बलवीर सिंह, देवी सिंह सहित 108 और 104 एम्बुलेंस के विनोद, जगदीश, सुरेश मीणा सहित तमाम चिकित्साकर्मी परिवार की परवाह किए बगैर मरीजों की सेवा में दिन रात जुटे हुए देखकर, मातृछाया अस्पताल की तरफ से ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एस पी शर्मा और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सभी चिकित्सकों और स्टाफ का साफा एवं माल्यार्पण कर स्वागत कर उनकी तारीफ की। उन्होंने बताया कि इन लोगों की बदौलत आज पिंडवाड़ा ब्लॉक अपने आप को सुरक्षित महसूस कर रहा है। इस दौरान अस्पताल के डॉक्टर डी आर रेवाड़ ने बताया कि हमारे अस्पताल के चिकित्साकर्मी के रूप में दीपक चौहान, हीरालाल, वाहन चालक दीपाराम मय एंबुलेंस के कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने में चिकित्सा विभाग के साथ लगे हुए हैं। इस दौरान ब्लाक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एसपी शर्मा ने मातृछाया अस्पताल की तरफ से मिले अपार स्वागत और सम्मान के लिए आभार जताते हुए, बताया कि हमें एकजुट होकर लॉक डाउन का पालन करते हुए कोरोना के खिलाफ जंग लड़नी है। इस मोके पर सुमित्रा नंदा, रूपाराम मीणा, मनोहरसिंह, भरत कुमार, भगवानसिंह सहित कई लोग मोजुद थे।

कोई टिप्पणी नहीं