Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

सादगी से मनाया जिनशासन स्थापना दिवस, ध्वज पूजन कर किया पौधारोपण।

सादगी से मनाया जिनशासन स्थापना दिवस, ध्वज पूजन कर किया पौधारोपण। बाड़मेर। जैन शासन स्थापना दिवस पर सोमवार को जैन श्रीसंघ बाड़मेर ...

सादगी से मनाया जिनशासन स्थापना दिवस, ध्वज पूजन कर किया पौधारोपण।

बाड़मेर। जैन शासन स्थापना दिवस पर सोमवार को जैन श्रीसंघ बाड़मेर की अगुवाई एवं जैन युवा संगठन, अखिल भारतीय श्री जैन श्वेतांबर खरतरगच्छ महासंघ युवा शाखा बाड़मेर कीर्ति मित्र मंडल के संयुक्त तत्वाधान में जैन श्रीसंघ बाड़मेर अध्यक्ष प्रकाशचंद वडेरा के आतिथ्य में 2577वां जैन शासन स्थापना दिवस हर्षोल्लास व सादगी के साथ मनाया गया।

चंद्रप्रकाश छाजेड़ ने बताया कि 2577वें जैन शासन स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में सोमवार को गडरारोड़ मार्ग स्थित जैन समाज की महावीर वाटिका में अहिंसा के अवतार श्रमण भगवान स्वामी की प्रतिमा के समक्ष दीप-प्रज्ज्वलित कर ध्वज-वंदन किया गया। तत्पश्चात महावीर वाटिका में पर्यावरण कार्यकर्ता मुकेश बोहरा अमन के नेतृत्व में विभिन्न किस्म के पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। और आगे भी महावीर वाटिका को बेहतर से बेहतरीन बनाने को लेकर युवाओं ने संकल्प लिया।

कार्यक्रम में जैन श्रीसंघ के अध्यक्ष प्रकाशचन्द वड़ेरा ने कहा कि भगवान महावीर ने कठोर तप करते हुए केवलज्ञान प्राप्त किया। और सम्पूर्ण दुनिया को सत्य, अहिंसा, अस्तेय, अपरिग्रह एवं ब्रह्मचर्य के साथ जीवन जीने का महामार्ग प्रदान किया। वड़ेरा ने कहा कि हमें उनके बताएं मार्ग का अनुसरण करने की आवश्यकता है।

इस कड़ी में जैन युवा संगठन के अध्यक्ष मुकेश बोहरा अमन ने कहा कि वर्तमान दौर को देखते हुए भगवान महावीर की बताई बातें, सिद्धान्त व शिक्षाएं बहुत ही प्रासंगिक हो गई है। ऐसे में हमें चिन्तन-मनन कर अपनी जीवन शैली में आवश्यक बदलाव की महती जरूरत है। अमन ने कहा कि आज पर्यावरण के प्रति अधिक सजग व जागरूक होना होगा। जिस कड़ी में हमें अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए।

जैन शासन स्थापना दिवस पर जैन श्रीसंघ के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने जैन शासन की आन, बान, शान के प्रतीक जैन ध्वज को वंदन करते हुए जैन शासन स्थापना दिवस की महत्ता एवं अवधारणा के बारे में जानकारी प्राप्त की।

अखिल भारतीय श्री जैन श्वेतांबर खरतरगच्छ महासंघ युवा शाखा बाड़मेर के मंत्री चंद्रप्रकाश छाजेड़ ने बताया कि भगवान महावीर स्वामी ने केवलज्ञान के बाद वैशाख सुदी ग्यारस को जैन शासन की स्थापना की। प्रतिवर्ष जैन धर्मावलंबियों द्वारा जैन शासन स्थापना दिवस पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और विश्व शांति व कल्याण की कामना व भावना व्यक्त की जाती है। इस वर्ष कॅरोना की वैश्विक महामारी के चलते इस कार्यक्रम को सादगीपूर्ण तरीके से आयोजित किया गया।

इस अवसर पर जैन श्रीसंघ बाड़मेर के पदाधिकारी जगदीशचन्द जैन, नरेश छाजेड़, पार्षद दिनेश भंसाली, जोगेन्द्र वड़ेरा, संजय बोथरा, हरीश बोथरा, रमेश संखलेचा, परवीन बोथरा, उदय गुरूजी, गौतम जैन आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं