Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

तपते रेगिस्तान की कठिन डगर से कोरोना को खदेड़ने की जुगत में लगे शिक्षकों को सलाम।

तपते रेगिस्तान की कठिन डगर से कोरोना को खदेड़ने की जुगत में लगे शिक्षकों को सलाम। हम हर रोज कोरोना योद्धाओं के बारे में लिखते है...

तपते रेगिस्तान की कठिन डगर से कोरोना को खदेड़ने की जुगत में लगे शिक्षकों को सलाम।

हम हर रोज कोरोना योद्धाओं के बारे में लिखते हैं और उनकी हौसला अफजाई करते हैं। आज हम आपको शिक्षकों के इस कार्य को आपसे रूबरू करवाते हैं जो वाकई में काबिले तारीफ हैं। तो आइए आपको थार के तपते रेगिस्तान में चिलचिलाती धूप और सुनसान धोरों के बीच सन्नाटे को चीरती हुई तेज चलती गर्म हवाओं से निकलने वालें अलौकिक संगीत के बीच इस गर्म मौसम में विभिन हालतों का सामना करके इस अदृश्य खतरे से बचाव में लगे इन शिक्षकों के कठिनाईयों भरें कार्य को जानने की कोशिश करते हैं ओर आपको भी महसूस करवाते हैं गर्मी के मौसम में रेगिस्तान को।

प्रिय पाठकों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि इस समय वैश्विक महामारी के चलते देशभर में चल रहे लॉक डाउन के हालातों में अपने गांव घर प्रदेश से दूर अन्य राज्यों या देशों में कार्य करने वाले प्रवासियों के धीरे-  धीरे घर वापसी के बाद जिलेभर में सरकारी आदेशों के तहत बाहर से आने वालों को होम-क्वारेंटाईन में रखने के बाद इनकी निगरानी के लिए हर गांव में एक सतकर्ता समिति कार्य करती हैं। जिसमें गांव के स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों की नियुक्ति कर होमआइसोलेट किए गए प्रवासियों की जानकारी क्षेत्र के पीईईओ के मार्फत इंसिडेंट कमांडर तक पहुंचानी होती हैं। इंसिडेंट कमाण्डर जिले के आपदा प्रबंधन समिति को रिपोर्ट करते हैं। इस कार्य के लिए धरातल पर दूर - सुदूर गांव ढाणियों में सबसे ज्यादा मुश्किलों का सामने करने वालें इन शिक्षकों को हम सेक्यूट करते हैं जो दिनभर कच्चे पक्के रास्तों ओर पथरीली पग डंडियों ओर रेतीले मार्गो से गुजरते हुए, मरुस्थल को पिघलाने वाली इस भीषण गर्मी में लूं के तेज बरसते अंगारों के बीच बड़े - बड़े रेत के टीलों तक सफर करके दूर तक बसी ढाणियों में निवासरत ग्रामीणों के बीच पहुंचते हैं। और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करके कोरोना महामारी के बचाव के बारे में जानकारी देते हैं। आज के इस संकटग्रस्त समय को व्यतीत कर रहे लोगों की निगरानी में लगे सतकर्ता समिति के सदस्य शिक्षक उनके निवास स्थान का दौरा कर आवश्यक निर्देश दे रहे हैं। इस संकट में लगे इन कोरोना यौद्धाओं की बदौलत आज लगभग हर क्षेत्र में हम ओर हमारा परिवार महफूज हैं।

1 टिप्पणी