Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

डेगाना, डॉ. दंपती कोरोना वॉरियर्स बनकर अस्पताल में लगे हैं मरीजों की सेवा में।

डेगाना, डॉ. दंपती कोरोना वॉरियर्स बनकर अस्पताल में लगे हैं मरीजों की सेवा में। @भावेश सैन नागौर/डेगाना। कोरोना संक्रमण के बढ़...

डेगाना, डॉ. दंपती कोरोना वॉरियर्स बनकर अस्पताल में लगे हैं मरीजों की सेवा में।

@भावेश सैन
नागौर/डेगाना। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव में संकट की घड़ी में लगातार सबसे ज्यादा संवेदनशील होकर सेवा के रूप में कोई है, तो असली रूप डॉक्टरों का ही है। इसलिए डॉक्टरों को भगवान का दर्जा दिया गया है। आज की कड़ी में आपको रूबरू करवाते हैं। डेगाना उपखंड के सबसे बड़े राजकीय सामुदायिक अस्पताल में कार्यरत मूल रूप से ग्राम मिठड़ी, तहसील नावां के निवासी डॉक्टर दंपती निश्चेतन विशेषज्ञ डॉ. राजेश बारूपाल व स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. राजकुमारी बारूपाल कोरोना संकट में लगातार सेवाएं दे रहे है। वैसे तो पिछले कई सालों से दंपती अस्पताल में सेवाएं दे रहे है, मगर कोरोना के चलते लगातार चाहे वह दिन हो या रात जब भी कोई मरीज आता है, सूचना मिलते ही तुरंत प्रभाव से मरीज को देखकर उपचार शुरू करते है। कोरोना संकट में इन दिनों दंपती डॉक्टर रात-दिन मरीजों की सेवा को ही मुख्य ध्येय बनाकर एक साथ मिलकर टीम के रूप में सभी अन्य डॉक्टरों के साथ एक ही बात कहते है, कि सभी मिलकर निश्चित रूप से कोरोना को हराएंगे। दंपती का बेटा बेंगलौर में बीटेक करने के बाद कपंनी प्रशिक्षण में गया हुआ था, मगर लॉक डाउन में फंसने के बाद वहां पर ही है, तो चिंता जरूर मन में रहती है, मगर शाम-सुबह कॉल करके बात करते है। गांव से दूर होकर भी लगातार अपने कर्तव्यों को निभाते हुए मरीजों की सेवा को मुख्य ध्येय मानकर जूटे हुए है। डॉ. राजेश बारूपाल ने बताया कि इस संकट की घड़ी में सभी लोग घरों में रहे, सेफ रहे, लॉकडाउन की पूर्णतया पालना करते हुए धीरे-धीरे संकट का सामना करना सीखें, तो आने वाले समय में परिणाम जरूर साकारात्मक आएंगें।

कोई टिप्पणी नहीं