Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

जन्मदिन पर विशेष: हिंदी फिल्मों के सरदार, परेश रावल एक बेहतरीन अदाकार।

जन्मदिन पर विशेष: हिंदी फिल्मों के सरदार, परेश रावल एक बेहतरीन अदाकार। @नवीन शर्मा मुंबई। परेश रावल एक बेहतरीन अदाकार ह...

जन्मदिन पर विशेष: हिंदी फिल्मों के सरदार, परेश रावल एक बेहतरीन अदाकार।


@नवीन शर्मा
मुंबई। परेश रावल एक बेहतरीन अदाकार हैं जो हर रोल में जान डाल देते हैं। वह रोल विलेन का हो या कामेडियन का वो दोनों में ही जमते हैं। उन्होंने केतन मेहता की फ़िल्म सरदार में स्वतंत्रता सेनानी वलभभाई पटेल का किरदार भी बखूबी निभाया था। 
परेश रावल (जन्म: 30 मई, 1950) को हुआ था।
उन्होंने अपने अभिनय की शुरूआत 1984 में की थी। उन्होंने आमिर खान की होली नाम की फ़िल्म में एक सहायक किरदार निभाया था। इसके बाद 1986 में नाम  फ़िल्म से उनके अभिनय को लोगों ने पहचाना। इसके बाद वह 1980 से 1990 के मध्य 100 से अधिक फ़िल्मों में खलनायक की भूमिका में नजर आए। इसमें कब्जा, किंग अंकल, राम लखन, दौड़, बाज़ी और कई फ़िल्मों में कार्य किया।

"हेरा फेरी" के यादगार बाबूराव
परेश एक हास्य फ़िल्म अंदाज़ अपना अपना में पहली बार दो किरदार में नजर आए। इसके बाद वर्ष 2000 में एक हिन्दी फ़िल्म "हेरा फेरी" में अपने अभिनय और किरदार के कारण वह इसके बाद कई फ़िल्मों में मुख्य किरदार भी निभा चूकें हैं। हेरा फेरी फ़िल्म में राजू (अक्षय कुमार) और श्याम (सुनील शेट्टी) उसके घर किराए पर रहते हैं। जबकि रावल उसमें मकान मालिक का किरदार निभाते हैं। इस किरदार को हेरा फेरी के सफलता का श्रेय दिया गया है। इसमें उनके कार्य के लिए वह फ़िल्मफेयर पुरस्कार (सर्वश्रेष्ठ हास्य कलाकार ) भी जीत चूकें हैं। उनका बाबुराव का किरदार उसके दूसरे भाग फिर हेरा फेरी (2006) में भी देखने को मिला, यह फ़िल्म भी सफल रही। मालामाल विकली में भी परेश ने यादगार अभिनय किया था। 

गुजराती फिल्मों में भी काम किया 
रावल को सर्वश्रेष्ठ फिल्म पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ कॉमेडियन और लीड रोल के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार, सहायक भूमिका मिली है। परेश रावल सबसे लोकप्रिय और वाणिज्यिक सफल फिल्मों में क्षणाशन (1991), मनी (199 3), मनी मनी (1995), गोविंदा गोविंदा (1994), रिक्शावुडू (1995), बावागरु बागुनारा (1998), शंकर दादा एमबीबीएस (2004), और टीन मार (2011)।

ओएमजी लाजवाब
2012 में आयी फिल्म omg में कांजिलाल मेहता के रूप में उनका किरदार आज भी याद आता है। वर्ष 2018 में राजकुमार हिरानी की फिल्म संजू (संजय दत्त की बायोपिक फिल्म) में सुनील दत्त (संजय दत्त के पिता) के रूप में उनकी भूमिका को लोगों ने पसंद किया।

राजनीति के मैदान में भी उतरे
परेश ने पूर्व मिस इंडिया स्वरूप संपत को अपनी जीवन संगिनी बनाया है। 
परेश रावल भारत के अहमदाबाद पूर्व संसदीय क्षेत्र से सांसद भी चुने गए। यह भारतीय जनता पार्टी के राजनेता है।

कोई टिप्पणी नहीं