Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज पर हो रहे जुल्म के खिलाफ देशव्यापी न्यायिक धरना।

सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज पर हो रहे जुल्म के खिलाफ देशव्यापी न्यायिक धरना। अजमेर। राष्ट्रीय नाई महासभा एवं सामाजिक न्याय संघ...

सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज पर हो रहे जुल्म के खिलाफ देशव्यापी न्यायिक धरना।

अजमेर। राष्ट्रीय नाई महासभा एवं सामाजिक न्याय संघर्ष मोर्चा के तत्वावधान में राष्ट्रीय अध्यक्ष आजाद गांधी के आह्वान पर समस्त भारत में सेन समाज तथा अति पिछड़ा वर्ग समाज पर हो रहे जुल्म, हत्या, शोषण, दोहन के खिलाफ आज 14 मई 2020 गुरुवार को दोपहर 12 से 2 बजे तक 6 सूत्रीय मांगों को लेकर अपने अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए 2 घंटे का देशव्यापी न्यायिक धरना देश के प्रत्येक मुख्यालय स्तर, तहसील स्तर, जिला स्तर व पंचायत समिति स्तर पर आयोजित किया गया। राष्ट्रीय नाई महासभा, राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया लाल सेन के निर्देशानुसार प्रदेश के सभी जिला, तहसील, पंचायत मुख्यालय पर  विभिन्न मांगों को लेकर धरना आयोजित किया गया। 

इसी क्रम में प्रदेश संरक्षक वीरेंद्र सेन अपने परिवार सहित चंद्रवरदाई नगर स्थित अपने आवास पर न्यायिक धरने पर बैठे। 

उन्होंने  विभिन्न मांगों के बारे में बताया कि :- 

  • सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
  • सेन समाज से आने वाले 6 वर्षीय पवन ठाकुर की निर्मम हत्या,  बांका निवासी दिनेश ठाकुर की बाल दाढ़ी नहीं काटने पर हत्या,  समस्तीपुर की रमा ठाकुर की सामूहिक बलात्कार कर हत्या, उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले की ज्ञान देवी एवं किशन ठाकुर की निर्मम हत्या, तेहरपुर जिला में प्रीति शर्मा  नाबालिग का बलात्कार कर हत्या, मध्यप्रदेश में बाल दाढ़ी नहीं काटने पर जानलेवा प्रहार सहित सैकड़ों सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज पर हो रहे जुल्म के विरोध में एवं अपराधियों की गिरफ्तारी एवं मुआवजा के लिए।
  • कोरोना महामारी के चलते सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज के लोगों के लिए 10 हजार रुपए प्रति परिवार की आर्थिक सहायता राज्य सरकारों द्वारा प्रदान की जाए।
  • सेन समाज एवं अति पिछड़ा समाज वर्ग के मजदूरों को प्राथमिकता के आधार पर रोजगार की गारंटी दी जाए।
  • सेन समाज सैलून व्यवसायी को स्वरोजगार हेतु बिना शर्त राज्य सरकार अपनी गारंटी के तहत 2 लाख रुपए का ऋण सुनिश्चित करें।
  • सरकारी नौकरी सेन समाज के कल्याण हेतु अलग व्यवस्था।

सेन ने बताया कि आए दिन हम समाचार पत्रों न्यूज़ चैनल को देखते हैं  सेन समाज तथा अति पिछड़ा वर्ग समाज पर बहुत ही अत्याचार हो रहे हैं। अभी हाल ही में लॉक डाउन के दौरान उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश में बाल दाढ़ी नहीं बनाने पर सेन समुदाय के लोगों से मारपीट की गई,  उनके परिवार को प्रताड़ित किया गया।

यहां तक कि एक गर्भवती महिला से भी मारपीट की गई। इन्हीं सब घटनाक्रमों को देखते हुए एवं राज्य सरकारों का ध्यान आकर्षित करने के लिए यह न्यायिक धरने का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं