Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बायतु में राजस्व मंत्री ने अधिकारीयों और जनप्रतिनिधियों की ली बैठक।

बायतु में राजस्व मंत्री ने अधिकारीयों और जनप्रतिनिधियों की ली बैठक। @राकेश जैन बाड़मेर/बायतु। पंचायत समिति के सभागार मे रविव...

बायतु में राजस्व मंत्री ने अधिकारीयों और जनप्रतिनिधियों की ली बैठक।

@राकेश जैन
बाड़मेर/बायतु। पंचायत समिति के सभागार मे रविवार को राजस्व मंत्री हरीश चौधरी की अध्यक्षता में अधिकारीयों और 
जनप्रतिनिधियों की बैठक आयोजित हुई। बैठक में चौधरी ने कोरोना वैश्विक महामारी के चलते अधिकारीयों को विशेष दिशा निर्देश दिए। चौधरी ने कहा कि बायतु की जनता अनुशासनशील है। बायतु की जनता कोरोना वैश्विक महामारी के चलते सरकार और प्रशासन का पूरा सहयोग कर रही है, लेकिन कुछ लोग नियमो की अवहेलना करते है प्रशासन उनके खिलाफ सख्त है। उन्होने कहा कि होम कोरेंटाइन किए गए व्यक्ति घरों से बाहर ना घूमे, इसके लिए पहली जिम्मेदारी उसके परिवार की तथा दूसरी पड़ोसी की बनती है। जनप्रतिनिधियों का कर्तव्य बनता है कि बाहर से आने वाले प्रवासियों की सूचना तुरंत प्रशासन को दें ताकि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी पर रोक लगाइ जा सके। चौधरी ने आमजन से भ्रांतियो पर ध्यान नहीं देने की अपील की है। चौधरी ने कहा कि इस बिमारी से सामान्य लोगो कर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। यह बिमारी बुजुर्गो, बच्चों और गर्भवती महिलाओं मे फैलने की संभावना ज्यादा रहती है। मंत्री ने सरपंचो से गांवो मे जरूरतमंदो की सहायता करने की अपील की। चौधरी ने कहा कि नरेगा के माध्यम से लोगो को रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है। नरेगा के तहत बनी सड़कों की मरम्मत का कार्य भी शुरू करवाकर लोगो को रोजगार उपलब्धध करवाया जाएगा। गर्मियां शुरू होते ही गांवो मे पेयजल किल्लत शुरू हो गई है। इसको लेकर जल प्रबंधन के विशेष बंदोबस्त किए जाएंगे। गांवो मे मीठे पानी की ट्यूबवेल और हेंडपंपो के माध्यम से जल प्रबंधन के इंतजाम किए जाएंगे। नहर के पानी के साथ बीमारियां आ रही है। टांको का पानी स्वच्छ है। बाड़मेर जिले मे 40 हजार परिवार बिजली से वंचित है लेकिन बायतु में राजस्थान के सर्वाधिक बिजली कनेक्शन हुए है। टिड्डियों के हमले के रोकथाम मे भी आमजन की महत्वपूर्ण रहती है। टिड्डी हमले की रोकथाम मे आमजन को सरकार का विशेष सहयोग करना आवश्यक है। पूर्व बीसीसीबी चैयरमेन डूंगराराम काकड़ ने कहा कि 2018 मे प्रधानमंत्री आवासो से वंचित लोगो की लिस्ट मांगी गई थी, लेकिन प्रधानमंत्री आवास का ऑनलाईन एप बंद हो जाने से लोग वंचित है वो एप पुन: शुरू करवाया जाएं। काकड़ ने खेमाबाबा मंदिर और एसडीएम कोर्ट का कार्य शुरू करवाने की मांग की। इस दौरान उपखण्ड अधिकारी विवेक व्यास, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर कमलेश चौधरी, विकास अधिकारी अमित चौधरी, पूर्व प्रधान सिमरथाराम चौधरी, डूंगराराम काकड़, चैनाराम गोदारा, बांकाराम धतरवाल, राजुसिंह नोसर, हिमथाराम खोथ, प्रवीण सऊ बाटाडू, गोमाराम पोटलिया, कॉमरेड खेताराम, खेताराम मूंढ, रिड़मलराम सारण, हेमन्त सियाग, रुगाराम सारण, सताराम धतरवाल, हड़मंतसिंह महेचा, आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं