Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बायतु एवं धोरीमना तहसील क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण के लिए किया छिड़काव।

बायतु एवं धोरीमना तहसील क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण के लिए किया छिड़काव। बाड़मेर। जिले में चल रहे टिड्डी दल के हमले में जिला प्र...

बायतु एवं धोरीमना तहसील क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण के लिए किया छिड़काव।

बाड़मेर। जिले में चल रहे टिड्डी दल के हमले में जिला प्रशासन ने राहत पहुंचाते हुए गुरुवार को कुल 525 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण का कार्य किया गया। अब तक कुल 5150 हेक्टेयर में छिड़काव कार्य किया जा चुका है। 
जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि जिले में टिड्डी नियंत्रण के लिए पुख्ता व्यवस्थाएं की गई है। उन्होने बताया कि टिड्डी हमले की प्रारम्भिक जानकारी के लिए जिले में सूचना तंत्र को मजबूत करने पर जोर दिया जा रहा है, ताकि हमले की सूचना मिलते ही तुरंत सर्वे कार्य सम्पादित किया जाकर रोकथाम सुनिश्चित किया जा सके। जिला कलक्टर ने बताया कि कृषि उप निदेशक एवं टिड्डी नियंत्रण अधिकारी को परस्पर समन्वय स्थापित कर प्रभावी कार्यवाही करते हुए आमजन को टिड्डी से राहत दिलाने हेतु निर्देशित किया गया है।
जिला कलक्टर ने बताया कि ग्राम स्तर पर सूचना तंत्र मजबूत बनाकर प्रतिदिन टिड्डी हमले की सूचना के अनुसार सर्वे कार्य सम्पादित कर त्वरित छिड़काव कार्य सम्पन्न करने हेतु निर्देशित किया गया है। उन्होने आमजन को टिड्डी हमले से संबंधित सूचना कृषि विभाग में स्थापित कन्ट्रोल रूम को देने की अपील की है ताकि त्वरित कार्यवाही की जा सके। साथ ही तहसील स्तर पर भी कन्ट्रोल रूम स्थापित किए गए है ताकि सूचना तंत्र मजबूत हो। 
कृषि उपनिदेशक जे.आर.भाखर ने बताया कि जिले में गुरुवार को बायतु तहसील क्षेत्र में 370 एवं धोरीमन्ना तहसील में 155 हेक्टेयर क्षेत्र पर टिड्डी नियंत्रण के लिए छिड़काव कार्य किया गया। 
उन्होने बताया कि जिले में अब तक गडरारोड़, चौहटन , गिड़ा, बाड़मेर, बायतु, सेडवा, बालोतरा, सिणधरी, शिव एवं  धोरीमन्ना तहसील क्षेत्र में कुल 5150 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण की कार्यवाही की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं