Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

सिवाना, कोरोना के चलते संकट से जूझते फोटोग्राफरों ने मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन।

सिवाना, कोरोना के चलते संकट से जूझते फोटोग्राफरों ने मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन। बाड़मेर/सिवाना। उपकरण क्षेत्रफल क्षेत्र के ...

सिवाना, कोरोना के चलते संकट से जूझते फोटोग्राफरों ने मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन।

बाड़मेर/सिवाना। उपकरण क्षेत्रफल क्षेत्र के फोटोग्राफरों ने आज मुख्यमंत्री के नाम सिवाना उपखंड अधिकारी प्रमोद सिरवी को ज्ञापन सौंपा। वहीं ज्ञापन में कोराना की महामारी के दौरान आर्थिक संकट से जूझते पत्रकारों ने सरकारी कोविड-19 के सहायता पैकेज में मदद करने को लेकर ज्ञापन दिया।

सिवाना क्षेत्र के फ़ोटोग्राफ़रों ने आज उपखंड कार्यालय पहुंचकर सिवाना उपखंड अधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया वही फोटोग्राफरों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर सरकार से मदद की गुहार लगाई वहीं फोटोग्राफरों ने ज्ञापन में बताया कि वर्तमान समय में वैविक माहमारी के चलते लॉकडाउन के कारण हम सभी फोटोग्राफरो की आर्थिक स्थिति बड़ी खराब हो गई है जिससे हमारे परिवार का गुजारा करना मुशकिल हो गया है। 

सिवाना उपखण्ड में करीब 300 फोटोग्राफर सदस्यो की आजिविका मात्र फोटोग्राफी पर चलती है। इस लॉकडाउन के चलते हम सभी फोटोग्राफर बेरोजगार हो गये है एवं सरकारी गाईडलाईन के अनुसार आगामी 2021 तक मजदुरी या कमाई का हमारे पास कोई साधन नही है। इस माहमारी में सरकार सभी नागरिको की किसी ना किसी रूप में सहायता कर रही है। इस परिस्थितियों को देखते हुए हम सरकार से अनुरोध करते है कि अगर हमे सरकार की तरफ से आयोजित कार्यक्रम संस्थानो में आवश्यकक्तानुसार संविदाकर्मी के रूप में कार्य मिल जावे और कोविड 19 के तहत घोषित आर्थिक पेकेज से कुछ राशि हम फोटोग्राफरो के लिये निश्चित की जावे तो इस बेरोजगारी में अपनी आजिविका चला सके। साथ ही बताया कि बिना ब्याज के एक निश्चित राशि का लोन उपलब्ध कराया जावे ताकि किसी जिन फोटोग्राफरों ने इधर उधर या बैंक लोन से मंहगे उपकरण खरीदे वे उनकी किश्त समय पर चुके।

वही बताया कि फोटोग्राफरों की वाजिब मांग को स्वीकार कर उचित सहायता व मदद करने की बात कही। वही आगामी शादियो में फोटोग्राफी करने की अनुमति प्रदान करवाने की भी मांग की। वही इस मौके पर राजेश जोशी, विक्रम माली, विनोद रामावत, कैलाश वैष्णव, मेहबूब शेख, कान्ति सैन, छगन माली, अशोक पंवार, खीमराज जैन, भरत रामावत, शांतिलाल प्रजापत मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं